पड़ोसी से अवैध संबंध के शक में कर दी पत्नी की हत्या, मर्डर से पहले देखे 50 वीडियो

पुलिस ने बताया कि आरोपी ने हत्या की वारदात को अंजाम और सबूतों के सफाये के तरीके जानने के लिए मोबाइल में 50 वीडियो देखे।

By: Kapil Tiwari

Published: 24 Jul 2018, 04:54 PM IST

चेन्नई। एक शख्स ने अपनी पत्नी के पड़ोसी से अवैध संबंध होने के शक में हत्या कर दी। हत्या की साजिश को आरोपी ने इस तरह से अंजाम दिया गया कि किसी के लिए भी पकड़ पाना मुश्किल था। किसी प्रोफेशनल किलर की तरह पति ने इस हत्या को अंजाम दिया। आरोपी पति ने अपनी 28 वर्षीय पत्नी को मारने से पहले मोबाइल में ढेर सारे वीडियो देखे। बताया जा रहा है कि ये वीडियो उसने हत्या को अंजाम देने और सबूतों के सफाये के लिए देखे थे। पुलिस के मुताबिक, पति ने हत्या करने से पहले मोबाइल में करीब 50 वीडियो देखे।

पड़ोसी से अफेयर के शक में पत्नी को मार डाला

पूरी घटना तमिलनाडु के विल्लुपुरम इलाके की है, जहां पति ने अपनी पत्नी के पड़ोसी से अफेयर होने के चलते उसकी हत्या कर दी। इन वीडियोज को देखने के बाद पति ने अपनी गर्भवती पत्नी को मौत के घाट उतार दिया। वहीं आरोपी ने परिजनों को बताया कि उसकी पत्नी की मौत तालाब में नहाते वक्त डूबने से हुई है, लेकिन पुलिस की जांच में यह बात झूठी साबित हुई। पुलिस को महिला का शव एक तालाब से बरामद हुआ था।

चार साल पहले हुई थी शादी

आरोपी की पहचान मुंबई निवासी रामादास के रूप में हुई है, रामादास की शादी 4 साल पहले पुष्पा नाम की एक युवती से हुई थी। इस शादी के बाद रामादास और पुष्पा ने एक बेटी को जन्म दिया। 4 महीने पहले रामादास अपने परिवार के साथ विल्लुपुरम के अपने गांव आया था, जहां उसका पत्नी से किसी बात पर विवाद हुआ। इसके बाद नाराज पुष्पा अपनी मां के घर चली आई। इसी दौरान रामादास ने पुष्पा की हत्या की साजिश रची और फिर अपने स्मार्टफोन पर कई विडियो डाउनलोड कर हत्या और सबूत मिटाने के तरीके सीखे।

पुलिस को गुमराह करने के लिए आरोपी ने बोला झूठ

पुलिस के मुताबिक, 15 जुलाई को पुष्पा का शव उसके गांव के एक तालाब से बरामद हुआ। इसके बाद पुलिस ने इस संबंध में रामादास से पूछताछ की तो उसने पुलिस से कहा कि उसकी पत्नी की मौत तालाब में डूबने से हुई है, लेकिन पुलिस अधिकारियों ने शक के आधार पर रामादास का मोबाइल फोन कब्जे में लेकर जांच की तो पता चला कि इस वारदात को अंजाम देने वाला कोई और नहीं बल्कि वहीं है। पुलिस को रामादास के मोबाइल से कई वीडियो मिले। इसपर शक के आधार पर पुलिस ने रिकवरी सॉफ्टवेयर के जरिए डिलीट किए विडियो को रि-स्टोर किया, जिसके बाद मर्डर ट्यूटोरियल विडियो की थ्योरी सामने आई।

आरोपी को लिया गया हिरासत में

रामादास के मोबाइल से वीडियो मिलने के बाद पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया। पुलिस ने जब सख्ती से पूछताछ की तो उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया। रामादास ने कबूल किया कि पड़ोसी से अफेयर होने के शक में उसने पुष्पा की हत्या कर दी थी और इसके पहले उसने फोन पर वीडियो के जरिए हत्या और सबूत मिटाने के तरीके भी सीखे थे।

Show More
Kapil Tiwari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned