युवती ने नाबालिग को पहले घर बुलाई, फिर युवती के भाई और दोस्तों ने बनाया हवस का शिकार

युवती ने नाबालिग को पहले घर बुलाई, फिर युवती के भाई और दोस्तों ने बनाया हवस का शिकार

Prashant Kumar Jha | Publish: Aug, 11 2018 04:29:09 PM (IST) क्राइम

पुलिस के मुताबिक वर्ष 2016 में आरोपी पक्ष और पीड़ित पक्ष के बीच विवाद चल रहा है। उस वक्त किशोरी के भाई आरोपी पक्ष की एक युवती से दुष्कर्म मामले में जेल जा चुका है।

यमुनानगर: दोस्त पर भरोसा करना अब आसान नहीं रहा। दोस्त ही दोस्त के दुश्मन बन रहे हैं। विश्वासघात करने का ऐसा ही एक मामला सामने आया है। बूड़िया थाना क्षेत्र में पिछले दिनों एक युवती ने अपनी नाबालिग सहेली को घर बुलाया और उसके साथ युवती के भाई और उसके दोस्तों ने दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया। जब पीड़िता ने इसकी शिकायत पुलिस में की तो पुलिस कार्रवाई के बजाय आरोपियों को थाने से वापस कर दिया। न्याय की गुहार के लिए पीड़ित पक्ष ने सीएम हाउस में शिकायत भेजी । पुलिस हरकत में आई।

ये भी पढ़ें: अमृतसर में विदेशी महिला से रेप की कोशिश, हॉलैंड से घूमने आई थी भारत

कमरे में बंद कर रातभर किया दुष्कर्म

पीड़िता और उसके परिजनों ने बताया कि 31 जुलाई को पड़ोस में रहने वाली लड़की ने फोन कर किसी काम के बहाने अपने घर बुलाया। वहां पर युवती का भाई पहले से मौजूद था। युवती ने कहा किशोरी को नशीली चाय पिला दी। इसके बाद युवती के भाई और उसके दोस्तों ने सामूहिक दुष्कर्म किया। इतना ही नहीं नाबालिग को रातभर बंधकर बनाकर उसके साथ दुष्कर्म किया गया। अगली सुबह किसी तरह युवती जान बचाकर अपने घर पहुंची और फिर आपबीती सुनाई। इसके बाद पीड़िता के परिजनों ने थाने में शिकायत की । पहले तो पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार किया लेकिन कुछ ही देर बाद उसे छोड़ दिया।

सीएम हाउस में शिकायत के बाद पुलिस सक्रिय

पीड़ित के परिजनों ने इसकी शिकायत सीएम हाउस में की । पीड़ित परिजनों ने कहा कि सरकार बेटी बचाओ का नारा दे रही है और पुलिस दुष्कर्म के आरोपित को छोड़ रही है। परिवार को जान का खतरा है। उन्होंने परिवार को सुरक्षा देने की मांग की है। उन्होंने चेतावनी भी दी है कि यदि आरोपितों के खिलाफ कार्रवाई नहीं की तो जान दे देंगे। जिसके बाद पुलिस हरकत में आई ।

दोनों पक्षों में चल रहा विवाद

पुलिस के मुताबिक वर्ष 2016 में आरोपी पक्ष और पीड़ित पक्ष के बीच विवाद चल रहा है। उस वक्त किशोरी के भाई आरोपी पक्ष की एक युवती से दुष्कर्म मामले में जेल जा चुका है। तब से दोनों परिवारों के बीच तनातनी बनी है।

मामले की जांच जारी

बूड़िया के थाना प्रभारी बलराज का कहना है कि इस मामले में महिला थाने में केस दर्ज हो चुका है। आरोपी के छोड़ने का आरोप गलत है। जब यह हमारे पास आए थे, तुरंत महिला थाने में भेज दिए गए थे। वहीं, महिला थाने की प्रभारी शीलावंती का कहना है कि एक आरोपित के खिलाफ केस दर्ज किया गया है, जबकि एक युवती का भी नाम आया है। मामले की जांच की जा रही है।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned