मुंबई: एटीएम पर हुई धोखाधड़ी, 17 दिनों में महिला ने इस तरह पकड़ा आरोपी को

महिला आरोपी को पकड़ने के लिए लगभग 17 दिनों तक रोजाना उस एटीएम पर जाती रही थी।

By: Shivani Singh

Published: 10 Jan 2019, 04:36 PM IST

नई दिल्ली। मुंबई से एटीएम फ्रॉड का बड़ा मामला सामने आया है। बांद्रा की रहने वाली एक महिला ने 36 साल के एक चोर को एटीएम के बाहर पकड़ा। बता दें कि महिला ने अपने साथ हुए धोखाधड़ी का पर्दाफास करने के लिए दो हफ्ते से भी ज्यादा का जाल बिधाया और आरोपी भूपेंद्र मिश्रा को धरदबोचा।

यह भी पढ़ें-प्रकाश जावड़ेकर का 8वीं तक हिंदी को अनिवार्य विषय बनाने से इनकार, खबर को बताया गलत

पुलिस के मुताबिर आरोपी का नाम भूपेंद्र मिश्रा है। 36 साल का भूपेंद्र आदतन आरोपी है। इसके खिलाफ अभी तक विभिन्न थानों में 7 मामले दर्ज की जा चुकी है। बांद्रा पुलिस स्टेशन के एक अधिकारी ने बताया कि घटना 18 दिसंबर की है। उस दिन महिला पाली हिल स्थित अपने दफ्तर जाने के लिए ट्रेन से उतरी थी। इसके बाद वह पास के एक एटीएम में पैसे निकालने पहुंची। लेकिन बहुत कोशिश के बाद भी तकनीकी खराबी की वजह से वह पैसे निकाल नहीं आई। पुलिन ने बताया इस दौरान आरोपी एटीएम के दरवाजे पर खड़ा रहा और महिला की गतिविधि देखता रहा।

आरोपी ने देखा की महिला को पैसे निकालने में समस्या हो रही है, उसने तुरंत ही महिला की मदद की कोशिश की। लेकिन आरोपी की मदद के बाद भी महिला पैसे नहीं निकाल पाईं। लेकिन इस दौरान आरोपी ने उनके डेबिट कार्ड की सारी जानकारी ले ली। वहीं, जैसे ही वह अपने दफ्तर पहुंची उन्हें एक मैसेज मिला कि उनके खाते से 10,000 रुपए निकाले गए हैं। अकाउंट से 10,000 निकलते ही महिला हैरान रह गई। महिला इसके बाद एटीएम पहुंची लेकिन उन्हें वहां कोई नहीं मिला।

यह भी पढ़ें-मतदान के बाद सात सेकेंड तक EVM बताएगी किसको गया आपका वोट, चुनाव आयोग की

पुलिस अधिकारियों के मुताबिक, इसके बाद महिला आरोपी को पकड़ने के लिए लगभग 17 दिनों तक रोजाना उस एटीएम पर जाती रहीं और उसके आने का इंतजार करती रहीं। दरअसल, महिला आरोपी को पकड़ने की कोशिश कर रही थी। इसके लिए वह लगातार एटीएम औरर स्टेशन के सामने आती रही ताकी आरोपी उनके हाथों लग जाए और एक दिन उनकी यह कोशिश कामयाब हो गई। पुलिस ने बताया कि 4 जनवरी को शेख ने आरोपी को उसी एटीएम के बाहर रात के 11.30 बजे पकड़ लिया और तुरंत पुलिस को इसकी जानकारी दी। वहीं, जब पुलिस आरोपी को पकड़ कर जांच पड़ताल की तो पता चला की आरोपी शख्स पर पहले से ही सात मामले दर्ज हैं। फिलहाल पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया और उससे पूछताछ कर रही है कि उसने ऐसे कितने मामलों को अंजाम दिया है।

Show More
Shivani Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned