निर्भया केसः तिहाड़ में भूख हड़ताल पर बैठा दोषी विनय, मुकेश ने भी रखी मांग

  • Nirbhaya Gangrape Case सामने आया नया मोड़
  • दोषी विनय ने शुरू कर दी भूख हड़ताल
  • तिहाड़ जेल प्रशासन ने कोर्ट में पेश की रिपोर्ट

By: धीरज शर्मा

Published: 17 Feb 2020, 03:27 PM IST

नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली के बहुचर्तिच गैंगरेप और हत्याकांड मामले ( Nirbhaya Gangrape Case ) में चौंकाने वाला मोड़ सामने आ गया है। एक तरफ पटियाला हाउस कोर्ट ( Patiala House court ) में निर्भया की मां नए डेथ वारंट ( Death Warrant ) जारी होने की उम्मीद लगाए बैठी है तो दूसरी तरफ फांसी की सजा से बचने के लिए दोषी लगातार नए हथकंडे अपना रहे हैं।

इस बीच सबसे बड़ी खबर सामने आ रही है तिहाड़ जेल ( Tihar Jail ) से मिली जानकारी के मुताबिक इस वक्त दोषी विनय शर्मा भूख हड़ताल ( Hunger Strike ) पर है।

साधुओं के वेश में घाटी में आतंकी हमले की फिराक में आतंकी, सभी पुलिस अफसरों की छुट्टियां हुईं रद्द

अरविंद केजरीवाल ने शपथ लेने के बाद संभाला कामकाज, पहले दिन किया बड़ा काम

दरअसल निर्भया गैंगरेप मामले में पटियाला हाउस कोर्ट में चल रही सुनवाई के बीच तिहाड़ प्रशासन ने कोर्ट में स्टेटस रिपोर्ट दाखिल की है। कोर्ट ने बताया है कि मौत की सजा पाया दोषी विनय शर्मा भूख हड़ताल पर है।

उधर...नया डेथ वारंट जारी करने वाली याचिका पर पटियाला हाउस कोर्ट में सुनवाई के बीच दोषी मुकेश ने भी बड़ा दांव चला है। अदालत में मुकेश ने कहा है कि वह नहीं चाहता कि न्यायाधीश की ओर से नियुक्त न्यायमित्र वृंदा ग्रोवर उसके मामले की पैरवी करें।

आपको बता दें कि सुनवाई से पहले दिल्ली गैंगरेप पीड़िता की मां आशा देवी ने कहा कि वे दोषियों के खिलाफ नए डेथ वारंट की याचिका पर आज होने वाली सुनवाई से उम्मीद लगाए हुए हैं। उन्होंने कहा कि सुनवाई की कई तारीखें आ चुकी हैं, लेकिन नया डेथ वारंट जारी नहीं किया गया। हम हर सुनवाई से उम्मीद करते हैं।

इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को स्पष्ट कर दिया था कि निर्भया सामूहिक बलात्कार एवं हत्या मामले में चार दोषियों को अलग-अलग फांसी दिए जाने की मांग करने वाली केंद्र की याचिका का लंबित रहना दोषियों को फांसी के लिए निचली अदालत की ओर से नई तारीख जारी करने की राह में आड़े नहीं आएगा।

Show More
धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned