केंद्र सरकार ने नन गैंगरेप कांड की सीबीआई जांच की मांग ठुकराई

केंद्र सरकार ने नन गैंगरेप कांड की सीबीआई जांच की मांग ठुकराई

Rakesh Mishra | Publish: Mar, 27 2015 08:42:00 PM (IST) क्राइम

13 मार्च की रात कॉन्वेन्ट स्कूल में लूट की नीयत से घुस थे डकैत, नगदी-सामान लूटने के बाद नन के साथ की हैवानियत

कोलकाता/ नई दिल्ली। केन्द्र सरकार ने नदिया जिले के रानाघाट के एक कॉन्वेंट स्कूल में वृद्धा नन के साथ गैंगरेप मामले की सीबीआई से जांच कराने की पश्चिम बंगाल सरकार की सिफारिश ठुकरा दी है।

गृह मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि नन गैंगरेप केस की सीबीआई से जांच कराने की बंगाल सरकार की सिफारिश मिली थी। इसे नामंजूर कर दिया गया है। इस फैसले से राज्य सरकार को अवगत करा दिया गया है। मामले की गंभीरता और संवेदनशीलता को देखते हुए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने इस केस की जांच सीबीआई से कराने की सिफारिश की थी।

इस बीच पता चला है कि स्कूल में लूटपाट एवं वृद्धा नन से हैवानियत की घटना को बांग्लादेश के अपराधियों ने अंजाम दिया है। अपराधी स्कूल में रखी मोटी रकम लूटने आए थे। नन ने उन्हें रोकने का प्रयास किया। इससे गुस्सा कर उसके साथ दरिन्दगी की। अपराधी सीमा पार कर बांग्लादेश भाग गए हैं। मामले में बुधवार को मुम्बई से पकड़े गए आरोपी मोहम्मद सलीम शेख ने सीआईडी की पूछताछ में यह सनसनीखेज खुलासा किया है।

सलीम ने बताया कि अपराधी दत्तफुलिया इलाके से सीमा पार कर बंगाल में दाखिल हुए थे। वारदात को अंजाम देने के बाद उसी मार्ग से बांग्लादेश भाग निकले हैं। सलीम भी वारदात में शामिल था। उल्लेखनीय है कि गत 13 मार्च की रात रानाघाट के गागनापुर इलाका कॉन्वेन्ट स्कूल में लूट की नीयत से कुछ डकैत घुसे थे। डकैतों ने कॉन्वेन्ट से लगभग 12 लाख रूपए नकद और कुछ सामान लूटने के बाद नन के साथ हैवानियत की थी।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned