पुलिस की गोली से वकील की मौत, भड़के वकीलों ने की आगजनी

जिला अदालत परिसर में एक पुलिस सब इंस्पेक्टर द्वारा अपने बचाव की गई गोलीबारी में एक वकील की मौत हो गई

इलाहाबाद। जिला अदालत परिसर में एक पुलिस सब इंस्पेक्टर द्वारा कथित तौर पर अपने बचाव में की गई गोलीबारी में एक वकील की मौत हो गई और एक अन्य गंभीर रूप से घायल हो गया। वहीं, वकीलों ने भी गोली चलाई जिससे एक सिपाही गंभीर रूप से घायल हो गया, लेकिन पुलिस के अनुसार वह सिपाही अभी जिंदा है। घटना के बाद भड़के वकीलों ने पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारियों पर पथराव करते हुए सड़क किनारे खड़ी 4 चार गाडियों को आग लगा दी। पुलिस के प्रवक्ता मृत्युंजय मिश्रा ने बताया कि मृतक की पहचान रोशन अहमद के तौर पर हुई है वहीं घायल वकील फिरोज नबी को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

मिश्रा ने बताया कि दोपहर करीब 2 बजे घटी इस घटना के समय मौजूदा वकीलों के अनुसार जब कुछ वकीलों ने सब इंस्पेक्टर को पीटने की धमकी दी तो उन्होंने अपने बचाव में गोली चला दी। हालांकि, अभी तक आरोपी की पुष्टि नहीं हो पाई है। लेकिन वकीलों का कहना है कि सब इंस्पेक्टर शैलेश कुमार सिंह ने गोली चलाई थी जिसके बाद वह मौके से गायब हो गए।

वकीलों के उग्र प्रदर्शन से पूरे दिन इलाहाबाद-कानपुर राजमार्ग पर यातायात अवरूद्ध रहा। उच्च न्यायालय में हालात तभी शांत हुआ जब कुछ वरिष्ठ न्यायाधीशों ने मौके पर पहुंचकर वकीलों से शांति बरतने का अनुरोध किया। हालांकि सड़क किनारे वाहनों को जलाने के कारण पूरे दिन सामान्य यातायात शुरू नहीं हो सका। उच्च न्यायालय के न्यायाधीशों ने वकीलों से यह भी कहा कि वे व्यक्तिगत रूप से जिला अदालत परिसर में जाकर हालात का जायजा लें।
Show More
भूप सिंह
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned