मोरनी गैंगरेप केस में बड़ा खुलासा: गेस्ट हाउस के मालिक ने 70 लोगों को भेजा था वॉट्सऐप मैसेज

पुलिस का कहना है कि युवती को सेक्स वर्कर बता कर मालिक ने उसकी तस्वीरें लोगों को भेजी थी।

By: Saif Ur Rehman

Published: 24 Jul 2018, 12:51 PM IST

पंचकूला। देश के हिला देने वाले मोरनी गैंग रेप में पुलिस की जांच जैसे-जैसे आगे बढ़ रही है। उसमें नई जानकारी हासिल हो रही है। अब इस मामले में एक नया खुलासा हुआ है। पुलिस का कहना है कि युवती को सेक्स वर्कर बता कर मालिक ने उसकी तस्वीरें लोगों को भेजी थी। पुलिस की पूछताछ के दौरान सनी के ड्राइवर ने जानकारी दी कि गेस्ट हाउस का मालिक सनी ने ही पीड़िता की तस्वीरें खींची थी। जिसके बाद तस्वीर को वॉट्सऐप के जरिए तस्वीर भेजकर करीब 70 लोगों को न्योता दिया गया। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक दो पुलिसकर्मियों सहित 40 लोगों ने सनी के आमंत्रण को स्वीकार किया। कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में ये भी कहा जा रहा है कि सनी देह व्यापार का धंधा चलाता था। हालांकि पुलिस अभी इस मामले की जांच कर रही है। बता दें कि पीड़िया ने मांग रखी है कि ये मामला पंचकूला पुलिस की बजाय चंडीगढ़ पुलिस को ट्रांसफर किया जाए। पीड़िता और उसके पति का कहना है कि पंचकूला पुलिस पर उन्हें भरोसा नहीं है। वे न्याय चाहते हैं। गौरतलब है कि इस सामूहिक दुष्कर्म में एक पुलिसकर्मी भी शामिल बताया जा रहा है। पीड़ित महिला का कहना है कि गेस्‍ट हाउस में दुष्‍कर्म करने के बाद एक पुलिसकर्मी ने महिला को 50 रुपए का नोट दिया था। जिसपर उसने अपना फोन नंबर लिखा था। महिला ने बताया कि पुलिस ने उससे कहा था कि अगर कोई दिक्‍कत हो, तो इस नंबर पर उससे बात कर लें।

चेन्नई: ट्रेन के पायदान पर लटकते हुए सफर कर रहे थे लोग, गिरने से हुई चार की मौत
8 लोग हुए गिरफ्तार
सोमवार को मोरनी गैंग रेप मामले में पुलिस ने आठ आरोपियों को पंचकूला की जिला अदालत में पेश किया। अदालत ने 6 लोगों को दो दिन और दो लोगों को तीन दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया। बता दें कि इस मामले की जांच आईपीएस अंशु सिंगला की एसआईटी कर रही है। एसआईटी ने विभिन जगहों पर छापेमारी कर आठ आरोपियों को गिरफ्तार किया है। अभी इस इस मामले में कई और गिरफ्तारियां होनी बाकी हैं।

आंध्र प्रदेश: विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग को लेकर YSR कांग्रेस का बंद, TDP के सांसदों से मांगा इस्तीफा


40 लोगों ने महिला के साथ 4 दिन तक किया गैंगरेप
आपको बता दें कि देश को हिला कर रख देने वाले इस गैंगरेप कांड में 40 लोगों ने 22 साल की शादीशुदा महिला के साथ 4 दिन तक गैंगरेप किया। ये हैवानियत दरिंदों ने एक सरकारी गेस्ट हाउस में की। बताया जा रहा है कि महिला को नौकरी का झांसा देकर गेस्ट हाउस लाया गया था। चार दिन तक महिला को गेस्ट हाउस में ही कैद करके रखा गया। 4 दिन तक 40 लोगों ने बारी-बारी से महिला के साथ रेप किया। इस दौरान महिला को नशीले इंजेक्शन भी दिए गए। दरिंदों ने नशे की हालत में महिला के साथ चार दिन तक बलात्कार किया।

40 लोगों के महिला के साथ दुष्कर्म मामले में आया नया मोड़, पीड़िता बोली चंडीगढ़ पुलिस को केस ट्रांसफर करें

Show More
Saif Ur Rehman
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned