स्मृति ईरानी को गंदे इशारे करने वाले डीयू के 4 छात्रों के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल, 15 अक्टूबर को सुनवाई

स्मृति ईरानी को गंदे इशारे करने वाले डीयू के 4 छात्रों के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल, 15 अक्टूबर को सुनवाई

Mohit sharma | Publish: Apr, 17 2018 02:46:30 PM (IST) क्राइम

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी की ओर अश्लील इशारे करने वाले आरोपियों खिलाफ दिल्ली पुलिस ने आरोप पत्र दाखिल कर दिया है।

नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी की ओर अश्लील इशारे करने वाले आरोपियों के खिलाफ दिल्ली पुलिस ने आरोप पत्र दाखिल कर दिया है। चारों आरोपी दिल्ली यूनिवर्सिटी के छात्र हैं। बता दें कि चारों छात्रों पर स्मृति ईरानी का पीछे करने और गंदे इशारे करने का आरोप है। पुलिस ने इनके खिलाफ मोटर व्हिकल एक्ट समेत कई धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है। वहीं आरोप पत्र का संज्ञान लेते हुए अदालत ने मामले में सुनवाई के लिए 15 अक्टूबर की तारीख तय की है।

कर रहे थे गंदे इशारे

दरअसल, घटना एक अप्रैल 2017 की है। आरोप पत्र के अनुसार घटना वाले दिन रात को दिल्ली युनिवर्सिटी के चार छात्रों ने स्मृति ईरानी की गाड़ी का पीछा किया था। ये चारों छात्र शराब के नशे थे। इन छात्रों ने केन्द्रीय मंत्री की कार का पीछा करते हुए उनको गंदे इशारे भी किए। बताया गया कि उस रात स्मृति ईरानी IGI एयरपोर्ट से अपने तुगलक रोड क्रिसेंट स्थित आवास को लौट रही थीं। ये चारों युवक हरियाणा नंबर की एक कार में सवार थे और उन्होंने म्यांमार दूतावास के पास से मंत्री का पीछा करना शुरू कर दिया। तभी स्मृति के कहने पर उनके सुरक्षाकर्मियों ने फ्रांसीसी दूतावास के नजदीक आरोपियों की गाड़ी को रोक लिया और इसक सूचना पुलिस कंट्रोल रूम को दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने चारों आरोपियों को हिरासत में ले लिया।

बर्थडे पार्टी से लौट रहे थे आरोपी

पूलिस पूछताछ में चारों आरोपियों की पहचान कुणाल, शितांशु, आनंद व अविनाश के रूप में हुई है। साउथ दिल्ली के बसंतगांव निवासी चारों छात्र ही डीयू में पढ़ते हैं। आरोपियों ने पुलिस को बताया कि घटना के समय वो अपने एक फ्रेंड की बर्थडे पार्टी से लौट रहे थे। बता दें कि अभिनेत्री व केन्द्रीय मंत्री के साथ हुई इस घटना से पुलिस डिपार्टमेंट में हड़कंप मचा था। चौंकाने वाली बात यह है कि स्मृति खुद महिला अपराध के खिलाफ आवाज उठाती हैं। ऐसे में उनके साथ हुई यह घटना महिला सुरक्षा पर सवाल खड़े करती है।

Ad Block is Banned