दिल्ली में एक साल की बच्ची के साथ हैवानियत, जानवरों की तरह बांधकर किया रेप

दिल्ली में एक साल की बच्ची के साथ हैवानियत, जानवरों की तरह बांधकर किया रेप

Kapil Tiwari | Publish: Feb, 05 2019 06:40:08 PM (IST) क्राइम

बच्ची अस्पताल में जिंदगी और मौत की जंग लड़ रही है।

नई दिल्ली। देश की राजधानी दिल्ली को एक दरिंदे ने फिर से शर्मसार कर दिया है। दरअसल, बीती रात दिल्ली के अमन विहार इलाके में एक साल की मासूम बच्ची के साथ दरिंदगी की घटना सामने आई है। जानकारी के मुताबिक, आरोपी ने बच्ची को जानवरों की तरह बांधकर उसके दरिंदगी की। बच्ची अस्पताल में जिंदगी और मौत की जंग लड़ रही है।

बच्ची को जानवरों की तरह बांधकर किया रेप

ठीक से बैठ भी नहीं पाने की उम्र में मासूम बच्ची को जानवरों की तरह बांधकर एक युवक ने उसके साथ दुष्कर्म किया। मौके पर ही कुछ लोगों ने युवक को धर दबोचा और तुरंत पुलिस को सूचना दी। इस दौरान लोगों ने उसकी जमकर पिटाई भी की। मौके पर पुलिस के पहुंचने से बच्ची की जान भी बच सकी, क्योंकि खून से लथपथ बच्ची को तुरंत मंगोलपुरी स्थित संजय गांधी अस्पताल ले जाया गया, जहां उसका इलाज चल रहा है।

खून से लथपथ हुई बच्ची

मौके पर पहुंचे लोगों ने बताया है कि मासूम के हाथ पैर और गला बांधकर उसके साथ रेप किया जा रहा था। दुष्कर्मी ने उसकी गर्दन और हाथ कपड़े से बंध रखे थे। उसके शरीर के निचले हिस्से पर कपड़े नहीं थे। वह खून से लथपथ थी।

 

Rape accused

पुलिस ने आरोपी को हिरासत में लिया

लोकल पुलिस ने आरोपी की अस्पताल से पट्टियां वगैरह करवाने के बाद हिरासत में ले लिया। इस मामले में वरिष्ठ पुलिस अधिकारी अभी खामोश हैं। हमने वारदात के सिलसिले में रोहिणी डिस्ट्रिक्ट के डीसीपी से जानकारी लेने की कोशिश की, लेकिन न उन्होंने कॉल्स रिसीव कीं, न वॉट्सऐप मेसेज का रिप्लाई किया।

यूपी के बदायुं का रहने वाला है आरोपी

आरोपी की पहचान धर्मेंद्र उर्फ गोलू (20) के तौर पर हुई है। वह बच्ची के ताऊ का जानने वाला बताया जा रहा है। मूलरूप से बदायूं (उप्र) का रहने वाला है। साप्ताहिक बाजारों में छोले-भटूरे बेचने का काम करता है।

बच्ची को ले गया था बहल-फुसलाकर

बताया जा रहा है कि वह बीती रात बच्ची को टॉफी दिलाने के बहाने घर से ले गया था। देर तक बच्ची को लेकर नहीं लौटा तो परिजनों को शक हुआ। उसे तलाशना शुरू किया। आरोपी न अपने घर में मिला, न अपने छोले-भटूरे बेचने वाले ठिकाने पर। लोगों ने उसे हर जगह खोजने की कोशिश की। आखिरकार वह वहां मिला, जहां उसने छोले-भटूरे तैयार करने की किचन बनाई थी। वहां बच्ची की हालत देख लोगों का कलेजा मुंह को आ गया।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned