खुलासा: मॉब लिंचिंग की घटनाओं से आहत आतंकी मूसा की थी फिदायीन हमले की योजना, अलर्ट पर यूपी-राजस्थान

खुलासा: मॉब लिंचिंग की घटनाओं से आहत आतंकी मूसा की थी फिदायीन हमले की योजना, अलर्ट पर यूपी-राजस्थान

Saif Ur Rehman | Publish: Oct, 14 2018 08:47:50 AM (IST) | Updated: Oct, 14 2018 08:47:51 AM (IST) क्राइम

सोहेल और रफीक भट्ट से पूछताछ में कई अहम खुलासे हुए हैं।

नई दिल्ली। सुरक्षाबल देश में अमन शांति बनाए रखने के लिए जद्दोजहद कर रहे हैं लेकिन आतंकी अपने नापाक मंसूबों से अशांति फैलाने में लगे हुए हैं। अब खबर है कि मॉब लिंचिंग में हुए मुस्लिम समुदाय के लोगों की मौत का बदला लेने की तैयारी आतंकियों ने कर रखी है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, आतंकी जाकिर मूसा के दो नजदीक साथी सोहेल और रफीक भट्ट की गिरफ्तारी के बाद पूछताछ में बात सामने आई है कि देश में मॉब लिचिंग में हुई मुस्लिम समुदाय के लोगों की मौत का बदला लेने की तैयारी अंसार गजवा-तूल-हिंद का चीफ मूसा कर चुका था। कुछ दिन पहले जालंधर में पकड़े गए हथियार और विस्फोटक पदार्थ इसी कड़ी का एक हिस्सा थे। इसके बाद से आईबी ने उत्तर प्रदेश और राजस्थान के डीजीपी को अलर्ट कर दिया है।

तुर्की से रिहा किए गए अमरीकी पादरी एंड्रयू ब्रूनसन ने की राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से मुलाकात

मॉब लिंचिंग की घटना से दुखी था मूसा

वरिष्ठ अधिकारियों की सोहेल से पूछताछ में पता चला कि जाकिर मूसा यूपी के हापुड़ मॉब लिंचिंग में मारे गए गुलाम मोहम्मद की मौत से दुखी था। रफी भट्ट से पूछताछ में भी पुष्टि हुई कि हापुड़ की घटना के साथ दादरी के अखलाक, राजस्थान के पहलू खां की मौत को भी जाकिर मूसा खुद पर कर्ज मानता था। कहा जा रहा है कि गोरक्षा के नाम पर मुसलमानों पर हमला किए जाने की खबर मूसा को मिलती तो उसे गुस्सा आता ।

#MeToo: भाजपा नेतृत्‍व आरोपों को लेकर गंभीर, विदेश से लौटते ही एमजे अकबर के मुद्दे अंतिम फैसला संभव
बना चुका था फिदायीन हमले का प्लान

जाकिर मूसा अपने डिप्टी रेहान के साथ मिलकर जम्मू-कश्मीर और पंजाब के पुलिसकर्मियों पर फिदायीन हमले का प्लान बना चुका था। रेहान पंजाब में भी गया था। पंजाब और जम्मू में पुलिस के दफ्तरों की कई जगहों की रेकी भी की है। मीडिया रिपोर्ट्स में कहा जा रहा है कि अभी यह साफ नहीं हो पाया है कि रेहान कहां-कहां होकर गया है और किसका नक्शा तैयार कर गया है। जाकिर मूसा की इस योजना का भी खुलासा हुआ है कि पुलिस स्टेशन और फौजी बंकरों पर पेट्रोल बम बरसाए जाएं। जाकिर युवाओं को हमेशा यही संदेशा देता था कि वह अपना नजरिया बदलें और सोच को इस्लामिक स्तर पर ले जाएं।

कौन है जाकिर मूसा?

जाकिर मूसा आतंकी संगठन अंसार गजवात-उल-हिन्द (AGH) का चीफ है। वह सुरक्षा बलों की ‘मोस्ट वांटेड लिस्ट’ में शामिल है। पंजाब पुलिस और जम्मू-कश्मीर पुलिस के स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (SoG) ने बीते बुधवार को साझा अभियान में जालंधर के पास शाहपुर में ‘CT इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग, मैनेजमेंट एंड टेक्नोलॉजी’ के छात्रावास के एक कमरे से एक असॉल्ट राइफल समेत दो हथियार और विस्फोटक बरामद किए। यहां से यूसुफ रफीक भट्ट, जाहिद गुलजार और मोहम्मद इदरीस को गिरफ्तार किया। इस मॉड्यूल के आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद (JeM) से भी तार जुड़े होने का शक है। इसके अलावा जम्मू-कश्मीर पुलिस ने भी इस मॉड्यूल के एक आतंकी सोहैल को गिरफ्तार किया है। इस तरह के कुल 4 आतंकियों की गिरफ्तारी हुई है।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned