रेवाड़ी गैंगरेप मामला: साजिश रचने वाला मुख्य आरोपी निशु गिरफ्तार

रेवाड़ी गैंगरेप मामला: साजिश रचने वाला मुख्य आरोपी निशु गिरफ्तार

prashant jha | Publish: Sep, 16 2018 08:51:08 PM (IST) क्राइम

रेवाड़ी गैंगरेप केस में पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है।

रेवाड़ी: रेवाड़ी गैंगरेप मामले में पुलिस ने आखिरकार वारदात के मास्टरमाइंड और मुख्य आरोपी को धर दबोचा है। पुलिस ने मुख्य आरोपी निशु समेत तीन को गिरफ्तार किया है। स्पेशल इनविस्टिगेशन टीम ने 30 घंटों के भीतर मुख्य आरोपी निशु, दीनदयाल और संजीव को पकड़ा है। एसआईटी प्रमुख नाजनीन भसीन ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इसकी जानकारी दी। नाजनीन भसीन ने कहा कि वारदात में शामिल दीन दयाल बोरवेल का मालिक है। जहां घटना को अंजाम दिया गया। वहीं संजीव स्थानीय डॉक्टर है। जिसने पीड़िता की तबीयत खराब होने पर इलाज किया था। लेकिन पुलिस को सूचना नहीं दी थी। एसआईटी प्रमुख नाजनीन भसीन ने कहा कि इस पूरे मामले का मास्टरमाइंड निशु है। भसीन ने बताया कि इस पूरे मामले में 100 से ज्यादा लोगों से पूछताछ की गई है।

बदले गए एसपी

वहीं इस मामले में रेवाड़ी एसपी राजेश दुग्गल को ट्रांसफर कर दिया गया है। उनकी जगह राहुल शर्मा ने चार्ज लिया है। एसपी दुग्गल के खिलाफ प्रशासन पर दबाव बढ़ता जा रहा था । आनन फानन में पुलिस प्रशासन ने एसपी को तबादला करने का फैसला किया। पुलिस सूत्रों ने रविवार को कहा कि अपराध में शामिल तीनों आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए विभिन्न जगहों पर छापेमारी की जा रही थी।

बोर्ड परीक्षी की टॉपर के साथ दुष्कर्म

पीड़िता व उसके माता-पिता ने पुलिस पर लापरवाही बरतने का आरोप लगाया है। पीड़िता के कहना है कि आरोपी उसी के गांव के रहने वाला है। आरोपियों ने कथित तौर पर कनीना बस स्टैंड से पीड़िता का अपहरण किया, जब वह कोचिंग क्लास जा रही थी। इसी दौरान उसका अपहरण कर नशीला पदार्थ पीला दिया। इसके बाद आरोपियों ने खेत से लगे कमरे में उसके साथ दुष्कर्म किया। बाद में इनमें से एक आरोपी मनीष ने गांव के पास के एक बस स्टॉप पर उसे फेंक दिया और पीड़िता के पिता को फोन कर उसे बस स्टॉप से ले जाने को कहा। पीड़िता कॉलेज में दूसरे साल की छात्रा है। उसने बोर्ड परीक्षा में टॉप किया था और उसे सरकार द्वारा सम्मानित किया गया था।

Ad Block is Banned