प्रद्युम्न मर्डर केस: SC का केन्द्र व हरियाणा राज्य सरकार को नोटिस, 3 हफ्तों में मांगा जवाब

ashutosh tiwari

Publish: Sep, 08 2017 09:00:00 (IST) | Updated: Sep, 11 2017 08:05:00 (IST)

Crime
प्रद्युम्न मर्डर केस: SC का केन्द्र व हरियाणा राज्य सरकार को नोटिस, 3 हफ्तों में मांगा जवाब

प्रशासनिक स्तर पर की गई इस कार्रवाई के बारे में अभी यह नहीं बताया गया है कि ये स्कूल कब तक बंद रहेंगे।

नई दिल्ली। प्रद्युम्न मामले में सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई में सर्वोच्च अदालत ने केन्द्र और हरियाणा राज्य सरकार को नोटिस भेजा है। यही नहीं सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले पर गंभीरता दिखाते हुए सीबीआई, एचआरडी मंत्रालय और सीबीएसई को भी नोटिस भेजा है। कोर्ट ने कहा कि यह सिर्फ एक बच्चे का मामला नहीं है, बल्कि यह देश के सभी बच्चों का मामला है। नोटिस जारी कर कोर्ट ने तीन हफ्तों के भीतर जवाब मांगा है। प्रद्युम्न मर्डर केस में आक्रोशित अभिभावकों के प्रदर्शन के चलते गुड़गांव में चार रेयान इंटरनेशन स्कूल बंद कर दिए गए हैंं।

प्रशासनिक स्तर पर की गई इस कार्रवाई के बारे में अभी यह नहीं बताया गया है कि ये स्कूल कब तक बंद रहेंगे। वहीं स्‍कूल प्रबंधन की कार्यशैली से नाराज प्रद्युम्न के पिता सुप्रीम कोर्ट पहुंच गए हैं। वहीं, प्रदर्शनकारी अभिभावकों और मीडिया पर लाठीचार्ज मामले में एसएचओ को सस्पेंड किया गया है। ये एसएचओ सोहना रोड और सदर थानों के हैं। रेयान स्कूल के रीजनल मैनेजर और एचआर हेड की गिरफ्तारी हुई है। बता दें कि दोनों ही लोगों की गिरफ्तारी जेजे एक्ट के तहत की गई है। आज इनको सोहना कोर्ट में इनको पेश किया जाएगा।

सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के बाद हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने प्रद्युम्न के पिता से फोन पर बात की। खट्टर ने कहा कि अगर आप चाहें तो सरकार सीबीआई जांच की सिफारिश के लिए तैयार है। उधर गिरफ्तारी के बाद रेयान के सीईओ रेयान पिंटो ने बांबे कोर्ट में अग्रिम जमानत अर्जी दाखिल की है जिस पर कल सुनवाई होगी। उधर सोहना कोर्ट में पुलिस ने कहा कि रेयान स्कूल की लापरवाही से बच्चे की हत्या हुई है साथ ही स्कूल प्रशासन ने सबूत मिटाने की भी कोशिश की। 

प्रद्युम्न के पिता सुप्रीम कोर्ट रवाना
वहीं, रेयान इंटरनेशनल स्कूल में प्रद्युम्न की हत्या को लेकर अभिभावकों में भारी आक्रोश है। इसके चलते हुए प्रशासन ने अहतियात के तौर पर स्कूलों को दो और दिन बंद रखने का फैसला किया है। बता दें कि दोषियों पर की जा रही कार्रवाई से प्रद्युम्न के पिता संतुष्ट नहीं हैं। यही कारण है कि उन्होंने इस मामले में स्कूल प्रबंधन से पूछताछ क्यों नहीं हो रही है। प्रबंधन से पूछताछ के लिए प्रद्युम्न के पिता सुप्रीम कोर्ट मं जाने की बात कही है।

सीबीआई जांच की करेंगे मांग
बता दें कि इस मामले मेें प्रद्युम्न के पिता वरुण ठाकुर लगातार सीबीआई जांच की मांग कर रहे हैं। इसके लिए वह आज सुप्रीम कोर्ट जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि मैं सुप्रीम कोर्ट से अनुरोध करूंगा कि मामले की सीबीआई से जांच हो, ताकि दोषियों को पकड़ा जा सके।

क्या है मामला?
गुरुग्राम में सोहना स्थित रेयान इंटरनेशनल स्कूल में शुक्रवार को बाथरूम में एक बच्चे की खून से लथपथ लाश मिली है। यह छात्र कक्षा दो में पढ़ता था। स्कूल के अंदर बच्चे की लाश मिलने से स्कूल और प्रशासन में हड़कंप मचा हुआ है। वारदात की सूचना पर पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंचे। प्रारंभिक जांच में छात्र की चाकू से गला रेतकर हत्या किए जाने की बात सामने आई थी। बच्चे का नाम प्रद्युम्न (7) है। उसके माता-पिता सोहना स्थिति मारूति कुंज इलाके में रहते हैं। उल्लेखनीय है कि इससे पहले जनवरी 2016 में भी दिल्ली के वसंत कुंज स्थित रेयान इंटरनेशनल स्कूल में छह साल के बच्चे की कथित रूप से पानी के टैंक में गिरने से मौत हो गई थी। स्कूल में पानी के टैंक का ढक्कन खुला हुआ था। जिसके कारण बच्चा गिर गया और उसकी मौत हो गई थी।

खिड़की से भागा है हत्यारा!
सबसे पहले स्कूल के माली अशोक ने छात्र प्रद्युम्न को बाथरूम में पड़े हुए देखा और घटना की सूचना स्कूल प्रबंधन को दी। इसके बाद स्कूल प्रबंधन ने पुलिस को बुलाया। पुलिस के अनुसार ब'चे की हत्या गर्दन को चाकू से रेत कर की गई है। पुलिस ने घटना स्थल के पास से ही चाकू को बरामद कर लिया। पुलिस जांच में सामने आया है कि मासूम की हत्या के बाद आरोपी बाथरूम के खिड़की से कूदकर भागा है क्योंकि पुलिस को पीछे सीमेंट टूटी हुई मिली है।

परिजनों ने लगाए आरोप, देरी से दी सूचना
जानकारी के अनुसार ब'चे का परिवार मूलरूप से बिहार का रहने वाला है। वहीं रेयान इंटरनेशनल स्कूल पर ब'चे के माता-पिता को देर से सूचना देने की बात सामने आ रही है। परिजनों का आरोप है कि सुबह सात बजे घटना की जानकारी होने के बाद भी स्कूल प्रबंधन की ओर से नौ बजे सूचना दी गई। जानकारी के अनुसार बाथरूम से जब ब'चे को बाहर निकाला गया। उस समय उसकी सांसें चल रही थीं, हॉस्पीटल ले जाते समय प्रद्युम्न की मौत हुई।

नहीं लगा रखे सीसीटीवी कैमरे
जांच में सामने आया है कि नामचीन स्कूल होने के बाद भी बाथरूम वाले बरामदे में सीसीटीवी कैमरे नहीं हैं। बाथरूम के पीछे वाले एरिया की निगरानी के लिए कोई कैमरा नहीं लगाया है। पुलिस उच्चाधिकारियों ने सोहना थाना प्रभारी को वारदात की सख्ती और गहनता से जल्द जांच के आदेश दिए हैं।

पिछले महीने इंदिरापुरम में भी हुई 10 साल के बच्चे की मौत
पिछले महीने इंदिरापुरम स्थित जीडी गोयनका पब्लिक स्कूल में कथित तौर पर गिरने की वजह से 10 साल के बच्चे की मौत हो गई थी। कक्षा चार में पढ़ने वाले अरमान सहगल को उसके पिता स्कूल छोड़कर गए थे, जैसे ही वे अपने घर पहुंचे, अरमान की मौत की जानकारी उन्हें मिली।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned