दिल्ली: सेंट स्टीफेंस कॉलेज के शिक्षक ने मां की हत्या करने के बाद की आत्महत्या, रेलवे ट्रैक पर मिला शव

  • दिल्ली विश्वविद्यालय के सेंट स्टीफेंस कॉलेज में शिक्षक था मृतक
  • केरल में आईपीसी की धारा-306 के तहत चल रहा है था केस
  • पुलिस को एलेन का शव रेलवे लाइन पर पड़ा मिला

Shiwani Singh

October, 2003:21 PM

क्राइम

नई दिल्ली। दिल्ली विश्वविद्यालय के सेंट स्टीफेंस कॉलेज के युवा तर्दथ शिक्षक ने मां की हत्या करने के बाद खुद भी आत्महत्या कर ली। 25 वार्षिय शिक्षक का नाम एलेन स्टेनले है। घटना शनिवार की है। पुलिस को एलेन का शव रेलवे लाइन पर पड़ा मिला।

यह भी पढ़ें-राजधानी दिल्ली पर मंडराया खतरा, जैश के निशाने पर 400 से ज्यादा इमारतें

दिल्ली पुलिस के मुताबिक, एलेन तर्दथ शिक्षक थे। उनके खिलाफ केरल में आईपीसी की धारा-306 के तहत एक आपराधिक मामला दर्ज था। घर में मृत मिली एलेन की मां का नाम लेसी पता चला है। 55 साल की लेसी के खिलाफ भी आत्महत्या के लिए उकसाने का केस केरल में चल रहा है। इन दिनों आत्महत्या को उकसाने वाले मामले में दोनों अंतरिम जमानत पर थे।

पुलिस जांच में पता चला है कि एलेन ने पांच दिन पहले मां को आत्महत्या करने के लिए मजबूर किया था। इसके बाद भी जब मां ने आत्महत्या नहीं की, तो एलेन ने उन्हें मार डाला। पुलिस को घर में मां लेसी का शव फंदे पर लटका हुआ मिला था। इस सिलसिले में पुलिस एलेन का शव रेलवे ट्रैक पर मिलने से पहले ही हत्या का मामला रानीबाग थाने में दर्ज कर चुकी थी।

यह भी पढ़ें- जम्मू कश्मीर: भारतीय सेना ने दिया मुंहतोड़ जवाब, PoK में किया कई आतंकी कैंपों को ध्‍वस्‍त

पुलिस लेसी की हत्या की जांच में उनके बेटे एलेन को भी तलाश रही थी। लेकिन एलेन का शव शनिवार को सराय रोहिल्ला रेलवे स्टेशन के पास स्थित रेलवे लाइन पर पड़ा मिल गया। इस बारे में दिल्ली पुलिस एक अधिकारी ने रविवार को बताया कि सराय रोहिल्ला स्टेशन पर दयाबस्ती की ओर वाली रेलवे लाइन के प्लेटफार्म नंबर-3 से कुछ दूर शनिवार को एक शव पड़ा होने की सूचना मिली। सूचना मिलते ही मौके पर पुलिस पहुंच गई।

घटनास्थल पर युवक का शव रेलवे लाइन पर दो हिस्सों में कटा पड़ा था। मौके पर पुलिस को युवक का मोबाइल फोन, कुछ कागजात और एक ड्राइविंग लाइसेंस मिला। ड्राइविंग लाइसेंस से युवक का नाम एलेन स्टेनले पता चला मोबाइल में मौजूद पहले से डायल किए हुए नंबरों पर पुलिस ने कॉल की तब मरने वाले युवक की पहचान हो सकी। साथ ही पहचान कराने में ड्राइविंग लाइसेंस ने भी पुलिस की मदद की।

Shivani Singh
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned