घर में घुसकर मां-बेटी को बनाया बंधक, गहने, नकदी लूटी

घर में घुसकर मां-बेटी को बनाया बंधक, गहने, नकदी लूटी
घर में घुसकर मां-बेटी को बनाया बंधक, गहने, नकदी लूटी

Sanjay Singh Tomar | Updated: 23 Sep 2019, 04:59:21 PM (IST) Dabra, Gwalior, Madhya Pradesh, India

एक माह पूर्व चिठ्ठी भेजकर दी थी दस लोगों को रुपए भेजने की धमकी

 

डबरा। तहसील में रविवार को दिनदहाड़े हथियारबंद तीन बदमाशों ने एक घर में घुसकर मां बेटी को बंधक बनाकर लूट-डकैती की वारदात को अंजाम दिया है। बदमाश इस दौरान दीवान के अंदर रखी लायसेंसी माऊजर, सोने चांदी के जेवरात और नगदी लूट ले गए है। जिस घर को बदमाशों ने निशाना बनाया उसके मालिक समेत तहसील के १० लोगों के नाम से करीब एक माह पहले एक चिठ्ठी भेज कर पांच-पांच लाख रुपए की राशि शीतला माता मंदिर के पीछे बनी धर्मशाला के पास रखने को कहा गया था।नहीं देने पर फल भुगतने की चेतावनी दी गई थी।

बदमाश तीन, घटना के बाद फरार
इस संबंध में संबंधित थाना पुलिस को सूचना दी गई थी मगर पुलिस ने इस ओर गौर नहीं किया। घटना की संबंध में जानकारी लगते ही चीनोर और भितरवार थाना प्रभारी व डबरा एसडीओपी उमेश तोमर मौके पर पहुंच गए। परिजनों का कहना है कि सूचना मिलने के आधा घंटे बाद पुलिस पहुंची। जबकि 500 मीटर दूरी पर थाना है। इधर, सभी बदमाश घटना को अंजाम देकर भाग निकले है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है।

मैन गेट का लॉक खोल अंदर दाखिल
चीनोर की दुर्गा कॉलोनी में रहने वाले ज्ञानसिंह राजपूत दोपहर में अपने खेत देखने किशोरगढ़ गए हुए थे। बदमाशों ने दोपहर करीब २.३० बजे मैन गेट का लॉक खोल कर अंदर दाखिल हो गए। घर में उनकी पत्नी राजाबेटी व बेटी सुरभि मौजूद थी। गैलरी में पहुंचे बदमाशों की आहट सुन जैसे ही राजाबेटी उठकर आई उसी वक्त बदमाशों ने उसे कट्टे की नोक पर कब्जे में ले लिया। इसके बाद पुत्री को मां के साथ बंधक बना लिया। सुरभी राजपूत ने बताया कि दो लोगों ने उन पर कट्टा अड़ा दिया और दीवान में माऊजर के साथ रखा बॉक्स जिसमें सोने चंादी के जेवरात लूट ले गए।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned