सात दिन में विद्युत व्यवस्था में सुधार नहीं हुआ तो करेंगे धरना-प्रदर्शन

बिजली की समस्या से त्रस्त मोहनावासियों ने बिजली कंपनी के सहायक प्रबंधक को सौंपा ज्ञापन

भितरवार/मोहना. पिछले कुछ दिनों से मोहना नगर में अघोषित रूप से हो रही बिजली कटौती से त्रस्त लोगों का आक्रोश अब फूटने लगा है। इसी के चलते समाजसेवी राधाकिशन धाकड़ के नेतृत्व में नगर के 2 दर्जन से अधिक लोगों ने बुधवार को बिजली कंपनी कार्यालय पहुंचकर सहायक प्रबंधक को ज्ञापन सौंपकर चेतावनी दी है कि 7 दिन के अंदर व्यवस्थाएं दुरुस्त नहीं की गईं तो धरना प्रदर्शन और आंदोलन होगा जिसकी जिम्मेदारी संबंधित विभाग के अधिकारियों की होगी।


नगर के लोगों के द्वारा सौंपे गए ज्ञापन में उल्लेख किया गया है कि प्रतिदिन 15 से 20 घंटे बिजली दी जाती है उसी में हर आधे घंटे पर बिजली जाती आती रहती है, जिससे लोगों के बिजली संबंधी उपकरण खराब हो रहे हैं, वहीं भीषण उमस भरी गर्मी में लोग परेशान हैं बच्चे बीमार हो रहे हैं। साथ ही लोगों के बिजली आधारित काम धंधे पूरी तरह से ठप हो गए वहीं एक और कोरोना वायरस के कारण लोगों के काम धंधे पहले से ही लोगों के छिन चुके हैं वहीं बिजली की अघोषित रूप से बार-बार की जा रही कटौती के भी लोगों के रोजगार पर काफी असर पड़ा है। वहीं उन्होंने लिखा है कि बार बार फाल्ट आने की समस्या बताई जाती है उस स्थिति में पूरे कस्बे की लाइट बंद करते हुए संबंधित फाल्ट वाले े क्षेत्र की ही सप्लाई बंद की जाए ना कि पूरे नगर की । अगर उक्त समस्या का समाधान 7 दिवस के अंदर नहीं किया जाता है तो सभी मोहना नगरवासी बिजली कंपनी के अधिकारियों की लापरवाही पूर्ण व्यवस्था के खिलाफ धरना आंदोलन कर प्रदर्शन करेंगे जिसकी जिम्मेदारी संबंधित अधिकारियों की होगी। इस अवसर पर प्रमुख रूप से विपिन तोमर, अशोक यादव, डॉ आरपी धाकड़ ,इरफान खान, राजेश गर्ग, सफीक , भरत जाटव, सोनू, उदय धाकड़, सलीम खान, विजय जैन, विजय खटीक, डॉ. अरमान सहित कई लोग उपस्थित रहे।

Show More
महेंद्र राजोरे Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned