अवैध शराब पकड़ी और ३६ बीघा जमीन कराई मुक्त

गोहिन्दा के कंजरों के डेरे पर आबकारी विभाग ने प्रशासन के सहयोग से गुरुवार को दबिश दी। यहां से टीम ने 1200 लीटर कच्ची अवैध शराब बरामद की है। आरोपियों ने खेत की मेढ़ों के नीचे गड्ढ़े खोदकर ड्रम छिपाए हुए थे। हिटैची मशीन से गड्ढा खोदकर ड्रमों को निकाला गया और जब्ती की कार्रवाई कर मौके पर शराब को नष्ट किया है। जिसकी अनुमानित कीमत 2.4 लाख आंकी गई है।

By: Vikash Tripathi

Published: 19 Feb 2021, 12:15 AM IST

आबकारी उपनिरीक्षक आमीन खान और एसडीएम भितरवार अश्वनी कुमार रावत, तहसीलदार श्यामू श्रीवास्तव, गोहिंदा पटवारी मनोज शर्मा की टीम ने पहुंचकर कार्रवाई की। हालांकि टीम को मौके पर कोई नहीं मिला। अभी तक एक भी कार्रवाई में कोई मौके पर नहीं मिला है। हालांकि टीम ने मौके से लगभग 1200 लीटर कच्ची शराब जप्त की। कोई नहीं मिलने की दशा में टीम ने इस कार्रवाई में एक अज्ञात प्रकरण कायम किया है। कार्रवाई मे आबकारी उपनिरीक्षक प्रवीण उपाध्याय एवं आबकारी उपनिरीक्षक सपना यादव, आबकारी उपनिरीक्षक अपर्णा विश्वकर्मा, छवि राज कदम, सुनील सिंह, सुरेंद्र सोलंकी, राजेंद्र अहिरवार, प्रकाश शखावत, रवि बघेल, भरत सिंह ,रणवीर सिंह गुर्जर आदि शामिल थे।

एंटी माफिया अभियान के तहत प्रशासन ने गोहिंदा चक कंजरों के डेरा पर छापामार कार्रवाही के दौरान वहां पर सरकारी जमीन पर खड़ी गेहूं की फसल को नष्ट कर करीब 36 बीघा सरकारी जमीन को मुक्त कराया है। आबकारी टीम की कार्रवाई के दौरान एसडीएम अश्वनी कुमार रावत ने डेरा के पास सर्वे न 1178 की जांच की तो सरकारी जमीन निकली। करीब 36 बीघा जमीन पर गेहूं की फसल लगी है। एसडीएम ने फसल को नष्ट करने के निर्देश दिए। टीम ने फसल को नष्ट कर, सरकारी जमीन को मुक्त कराया है। बाजार मूल्य करीब एक करोड़ रुपए बताया गया है। इस संबंध में तहसीलदार श्यामू श्रीवास्तव का कहना है कि एसडीएम के साथ कार्रवाई के दौरान जमीन की जांच की तो सरकारी सर्वे नंबर से मिलान हुआ है। सरकारी जमीन पर गेहूं की फसल लगी है। जिस कारण उसे कटवाया गया है। पशुओं के लिए गोशाला भिजवाया जाएगा। जहां रह रहे गौवंश के लिए आहार के रूप में गेहूं की फसल उपलब्ध होगी। एक कारोड की जमीन की कीमत आंकी गई है।

Vikash Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned