डबरा की जनता ने बनाया जनता कफ्र्यू सफल, बाजार में सन्नाटा, पुलिस कर रही पेट्रोलिंग

janta curfew follows in dabra city market closed : सभी स्टोर्स, मार्केट, मॉल, गुमठियां बंद हैं। सिर्फ मेडिकल व जनरल स्टोर्स को खुले रखने की अनुमति है। लेकिन लोगों की भीड़ को इकठ्ठा नहीं होने दिया जा रहा है। कोरोना भारत में अपने तीसरी स्टेज पर है। जहां ये कम्यूनिटी में फैलता है

By: Gaurav Sen

Published: 22 Mar 2020, 12:12 PM IST

ग्वालियर। कोरोना के असर को रोकने के लिए कलेक्टर ग्वालियर द्वारा 22 से 24 मार्च तक के लिए लॉक डाउन घोषित किया है। हालांकि पूरे देश की जनका पीएम मोदी के जनता कफ्र्यू का पूरा समर्थन कर रही है। लोगों ने अपने प्रतिष्ठानों को पूर्णत बंद किया हुआ है। सभी स्टोर्स, मार्केट, मॉल, गुमठियां बंद हैं। सिर्फ मेडिकल व जनरल स्टोर्स को खुले रखने की अनुमति है। लेकिन लोगों की भीड़ को इकठ्ठा नहीं होने दिया जा रहा है। कोरोना भारत में अपने तीसरी स्टेज पर है। जहां ये कम्यूनिटी में फैलता है। जिसे रोकने के लिए ही लॉक-डाउन व जनता कफ्र्यू किया गया है। क्योंकि इसी स्टेज पर कोरोना को रोका जा सकेगा नहीं तो हालात बुरे होते जाएंगे। कोरोना संदिग्ध लगातार सामने आ रहे हैं। हालांकि डबरा में एक भी कोरोना का संदिग्ध नहीं मिला है। यहां विदेश से आने वाले लोगों ने शहर में आकर अपने घर जाने के पहले सरकारी अस्पताल में जाकर खुद को चैक कराया। जहां डॉक्टरों ने कनाडा से लौटे नपा डबरा में पार्षद रहे विजेंद्र संधू को स्वस्थ घोषित किया।


जरूरी नहीं तो न निकले बाहर
सरकार व प्रशासन का साफ कहना है कि जरूरी न हो तो घरों से बाहर न निकलें। ज्यादातर प्रायवेट ऑफिसों ने अपने कर्मचारियों को घर से काम करने की अनुमति दे दी है। इसके अलावा पूरा शहर बंद है। सरकार बस स्टैण्ड, प्रायवेट बस सर्विस, रेलवे स्टेशन आदि पर सन्नाटा खिंचा है। रोडवेज सर्विस पूर्णत बाध्य है। रेलवे सर्विस कुछ हद तक चालू है जिसका कम ही लोग उपयोग कर रहे हैं जिन्हें जरूरी है यात्रा करना।

आम जनता ने कराया सफल कफ्र्यू
ग्वालियल जिले में आने वाले सभी कस्बों में, शहरों में, गांवो में जनता का जनता कफ्र्यू को पूर्ण समर्थन है। लोगों ने अपनी मर्जी से ही बाहर न निकलने के खुद को और अपने परिवार व समाज के लोगों को प्रतिवद्ध किया। कोरोना से हो रही इस जंग में इंसान को बचाने के लिए सभी लोग पूर्ण रूप से जनता कफ्र्यू को सफल बना रहेहैं।

 

जमाखोरी से महंगा हुआ सामान
वाट्सएप यूनिवर्सिटी पर वायरल हो रहे पैनिक करने वाले वीडियो व ऑडियो के चलते आम जनता पैनिक खरीददारी कर रही है। जरूरत से ज्यादा सामान खरीद कर रही है। घरो मे खाने-पीने का सामान स्टॉक किया जा रहा है। पीएम मोदी ने खुद देश के लोगों को आश्वासन दिया है कि सरकार खाने-पीने की वस्तुओं की कमी नहीं होने देगी। जमाखोरी न करें। सभी के बारे में सोचें और कोरोना से सर्तक रहें।

Gaurav Sen
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned