तीन दिन तक पानी में डूबी रहने से धान की फसल गलकर हुई खराब

पिछले दिनों रानीघाटी क्षेत्र के गांवों में हुई तेज बारिश के पानी से जलमग्न हुए गधौटा,मस्तूरा गांव के मौजे के किसानों की धान की फसल लगातार तीन दिन तक पानी में डूबी रहने से गलकर खराब हो गई। ऐसे में किसानों के माथे पर चिंता की लकीरें खिंच गई।

By: rishi jaiswal

Published: 02 Aug 2020, 11:09 PM IST

डबरा/भितरवार. पिछले दिनों रानीघाटी क्षेत्र के गांवों में हुई तेज बारिश के पानी से जलमग्न हुए गधौटा,मस्तूरा गांव के मौजे के किसानों की धान की फसल लगातार तीन दिन तक पानी में डूबी रहने से गलकर खराब हो गई। ऐसे में किसानों के माथे पर चिंता की लकीरें खिंच गई। पानी की निकासी जल्द न कराने पर पैदा हुई ऐसी स्थिति देख किसानों में स्थानीय प्रशासन के खिलाफ नाराजगी पैदा हो गई है।


जानकारी के अनुसार 29 जुलाई को रानीघाटी क्षेत्र में हुई तेज बारिश के पानी के उतार एवं मस्तूरा के तालाब की पार फूटने से गधौटा, मस्तूरा, के किसानों की सैकड़ों बीघा जमीन में लगी धान की फसल डूब गई थी । पानी की निकासी न होने से खेत तालाब जैसे दिखाई देने लगे थे। वहीं खेतों पर रह रहे एक किसान का घर पानी से घिर गया था। चारों तरफ से घिरे परिजनों एवं किसानों की धान की फसल पानी मे डूबे होने की सूचना मिलने के बाद दूसरे रोज मौके पर पहुंचे अधिकारियों ने स्थिति का जायजा लिया और गाधौटा - बरगवा मार्ग पर पुलिया से पानी की निकासी के लिए सडक़ निर्माण करने वाले ठेकेदार को पुलिया पर बड़े पाईप डालने की बात कही।

अधिकारियों के निर्देशों के बाद भी ठेकेदार ने तत्काल पाइप नहीं डलवाए। जिसे देखते हुए ग्रामीणों ने भितरवार आकर एसडीएम से पानी की निकासी की गुहार लगाई। इसके बाद ठेकेदार ने शुक्रवार को जेसीबी से बड़े पाइप डलवाने काम शुरू करते हुए खुदाई की ओर मस्तूरा - बरगवा मार्ग पर पाइप डाले गए इसके बाद धीरे धीरे खेतों से पानी निकासी शुरू हो गई। रविवार पानी से खाली खेत देखने पहुंचे किसानों के उस समय होश उड़ गए जब धान की पौध पानी में डूबे रहने से गलकर नष्ट मिली। गधौटा,मस्तूरा के आधा सैकड़ा से अधिक किसानों की 300 बीघा जमीन में लगाई गई धान की फसल पूरी तरह से बर्बाद हो गई। वहीं खेत पर रह रहे किसान गजेंद्र सिंह रावत की कच्ची मड़ैया पानी भरे रहने से धराशाही हो गई।

rishi jaiswal
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned