तीन महीने से लोग पेयजल के लिए हो रहे परेशान

करीब तीन महीने पहले यहां रोड का निर्माण के दौरान नाला बनाया गया था। इस वजह से पेयजल सप्लाई की लाइन टूट गई थी। इसके चलते लोगों के घरों में पानी की एक बूंद भी नहीं पहुंच रही है।

By: rishi jaiswal

Published: 28 May 2020, 11:26 PM IST

चीनोर. क्षेत्र की ग्राम पंचायत बनवार की छह हजार की आबादी पिछले तीन महीने से पेयजल को तरस रही है। दरअसल रोड निर्माण के दौरान नल योजना कि सप्लाई की पाइप लाइन टूट गई थी। इस वजह से लोगों के घरों में पानी नहीं पहुंच रहा है। इस संबंध में ग्राम पंचायत के सरपंच ने जनपद पंचायत सीईओ पीएचई विभाग को कई बार लिखित में शिकायत की लेकिन सुनवाई नहीं हो रही है।

ग्राम पंचायत बनवार बड़ी पंचायत है। यहां की आबादी 6000 के करीब है। ग्रामीणों को पेयजल मुहैया कराने के लिए नल जल योजना लगी है। साथ ही इसकी पानी की टंकी भी गांव में बनी है। करीब तीन महीने पहले यहां रोड का निर्माण के दौरान नाला बनाया गया था। इस वजह से पेयजल सप्लाई की लाइन टूट गई थी। इसके चलते लोगों के घरों में पानी की एक बूंद भी नहीं पहुंच रही है।

करीब छह हजार लोग जल संकट से जूझ रहे हैं। भीषण गर्मी में जब पानी की जरूरत ज्यादा रहती है तब लोगों को पानी नसीब नहीं हो पा रहा है। ग्रामीण पीने व जरुरत के लिए पेयजल दूर दराज से गांव के बाहर से लेकर आ रहे हैं। लोग मोटरसाइकिलों, ट्रैक्टर-ट्रॉली व सिर पर पानी ढोकर ला रहे हैं।

ग्रामीण धर्मेन्द्र कुशवाह का कहना है कि पूरा गांव गंभीर पेयजल संकट से जूझ रहा है पर संबंधित विभाग इस ओर ध्यान नहीं दे रहा है। ग्रामीणों में इस बात को लेकर काफी रोष व्याप्त है।

'तीन महीने पहले रोड बनने के दौरान नाला बनाए जाने के समय पानी की पाइप लाइन पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई थी। इससे गांव के लोगों को पानी नहीं मिल पा रहा है। मैंने इस संबंध में जनपद पंचायत व पीएचई को कई बार लिखित में शिकायत की। अभी तक समस्या की ओर ध्यान नहीं दिया गया।' - लाखन सिंह कुशवाह, सरपंच, ग्राम पंचायत, बनवार

rishi jaiswal
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned