सर्वर डाउन होने से किसानों के नहीं हो रहे पंजीयन

सर्वर डाउन होने से किसानों के नहीं हो रहे पंजीयन
सर्वर डाउन होने से किसानों के नहीं हो रहे पंजीयन

Sanjay Singh Tomar | Updated: 06 Oct 2019, 10:30:00 AM (IST) Dabra, Gwalior, Madhya Pradesh, India

समर्थन मूल्य पर धान की फसल बेचने को लेकर संशय

 

डबरा. समर्थन मूल्य पर धान की सरकारी खरीदी के लिए पंजीयन किए जाने का कार्य शुरू है लेकिन डबरा ब्लॉक में सर्वर डाउन होने से पंजीयन कार्य की गति बेहद धीमी है। सर्वर की समस्या की वजह से किसानों को पंजीयन कराने के लिए सोसायटियों के चक्कर लगाने पड़ रहे है। अभी तक डबरा ब्लॉक में ६५ किसानों के पंजीयन हो पाए है। जबकि अंतिम तिथि १६ अक्टूबर है। पिछले साल खरीफ फसल के लिए ४६८० किसानों के पंजीयन हुए थे।

नवीनीकरण के कॉलम में भी समस्या बनी होने की वजह से पुराने किसानों का भी पंजीयन कार्य प्रभावित है। जिसे लेकर किसान रोज सोसायटियों के चक्कर लगा रहे है। समर्थन मूल्य पर सरकारी खरीदी के लिए किसानों के पंजीयन के लिए १६ सितंबर से १६ अक्टूबर तक का समय निर्धारित है। किसानों के पंजीयन के लिए डबरा ब्लॉक में १० संस्थाओं को सेंटर बनाया गया। हालांकि कई दिनों तक पोर्टल के अपडेशन कार्य प्रभावित होने से पंजीयन कार्य शुरू नहीं हो पाया। एक सितंबर से पंजीयन कार्य शुरू हो गया है।

सर्वर डाउन होने से किसानों का पंजीयन कार्य धीमी गति से चल है इसे लेकर किसान परेशान है। अकबई बड़ी, गिजौरा, मेहगांव समेत कई संस्थाओं से सर्वर डाउन होने की शिकायतें आई। जिस कारण किसानों को बिना पंजीयन कराए लौटना पड़ा। हालांकि ऑपरेटर उनके मैन्युल फॉर्म भरवा अपने पास रख रहे है। जब सर्वर आ जाएगा तो उनका ऑनलाइन पंजीयन कर देंगे। रिन्यूवल कॉलम नहीं खुलने से पुराने किसान करीब ४६८० का भी अभी तक एक का भी नवीन पंजीयन नहीं हो पाया है।
यहां हो रहे पंजीयन

डबरा ब्लॉक में १० सोसायटियों को पंजीयन के लिए सेंटर बनाया है। जिसमें बड़ी अकबई, अजयगढ़, करियावटी, मेहगांव, चितावनी, सालवई, भगेह, डबरा गांव, पुट्टी और मार्केटिग सोसायटी डबरा शामिल है।

मिली थी कई शिकायतें
विगत २४ सितंबर को महिला एवं बाल विकास विभाग मंत्री इमरती देवी सुमन को निरीक्षण के दौरान नर्सो द्वारा रुपए मांगे जाने की शिकायतों के साथ बीएमओ अरविंद शर्मा के खिलाफ भी शिकायत मिली थी। एक महिला सरपंच द्वारा बीएमओ के खिलाफ अभद्रता किए जाने का आरोप भी लगाया गया था। इस बात पर जो रुपए लेती है उन नर्सो के नाम सीएमएचओ ने लिखे थे वहीं बीएमओ के खिलाफ निलंबन की कार्रवाई किए जाने की बात कही थी।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned