पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर कर दी पति की हत्या, जांच में हुआ खुलासा

पुलिस को अपनी जांच के दौरान चर्चा में यह बात पता चली कि मृतक की पत्नी मीना कुशवाह के गांव के ही राजू उर्फ लकड़ू बड़ई के साथ अवैध संबंध हैं। साथ ही उसका मीना के घर आना जाना रहता है। पुलिस ने शक के आधार पर मीना की कॉल डिटेल निकलवाई तो पता चला कि घटना वाले दिन राजू की मृतक की पत्नी मीना से लंबी बात हुई थी। पुलिस ने जब राजू और मीना को बुलाकर सख्ती से पूछताछ की तो दोनों ने राज उगल दिया।

By: rishi jaiswal

Published: 17 Jun 2020, 08:01 AM IST

डबरा/ पिछोर. क्षेत्र की ग्राम पंचायत जनकपुर के ग्राम धवा के हार में डीपी के पास अधजली अवस्था में मिली लाश का मंगलवार को खुलासा हो गया है। अवैध संबंधों के चलते पत्नी ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर पहले 315 बोर की अधिया के बट से सिर पर वार कर घायल किया। फिर डीपी के पास ले जाकर करंट लगाकर हत्या कर दी। पुलिस ने पत्नी व प्रेमी दोनों को गिरफ्तार कर लिया है। दोनों ने अपना अपराध कबूल कर लिया है।

जानकारी के अनुसार धवा गांव निवासी अतर सिंह उर्फ कल्लू कुशवाह (40) 11 मई की रात खेतों में पानी देने गया था। 12 मई की सुबह उसका शव डीपी के पास अधजली हालत में मिला था। शव पर चोट के निशान होने से परिजन हत्या का आरोप लगा रहे थे। जबकि पुलिस परिस्थितियों को देखकर इसे करंट लगने से हुआ हादसा ही मान रही थी। घटना के दूसरे दिन पड़ताल में पुलिस को जिस जगह शव मिला था उससे 500 मीटर दूर एक कारतूस व पास ही में मृतक की चप्पल पड़ी मिली। इससे पुलिस को हत्या का शक हुआ और पुलिस ने जांच शुरू कर दी।

एसडीओपी डबरा उमेश शुक्ला ने बताया कि पुलिस को अपनी जांच के दौरान चर्चा में यह बात पता चली कि मृतक की पत्नी मीना कुशवाह के गांव के ही राजू उर्फ लकड़ू बड़ई के साथ अवैध संबंध हैं। साथ ही उसका मीना के घर आना जाना रहता है। पुलिस ने शक के आधार पर मीना की कॉल डिटेल निकलवाई तो पता चला कि घटना वाले दिन राजू की मृतक की पत्नी मीना से लंबी बात हुई थी। पुलिस ने जब राजू और मीना को बुलाकर सख्ती से पूछताछ की तो दोनों ने राज उगल दिया।

एसडीओपी ने बताया कि घटना वाली रात राजू व मृतक की पत्नी मीना ने अतर सिंह को 315 बोर की अधिया से सिर पर वार कर उसे अधमरा कर दिया। इसके बाद लाठी से टांगकर डीपी के पास ले जाकर करंट लगाकर मार दिया ताकि लगे कि बिजली के करंट से मौत हुई है। पुलिस ने हत्या में इस्तेमाल की गई अधिया भी बरामद कर ली।

दो दिन बाद थी पुत्री की शादी - मृतक अतर सिंह की पुत्री की शादी 14 मई को होना थी। घर में शादी की तैयारियां चल रही थी। दो दिन पहले 12 मई की सुबह अतर सिंह का शव मिलने से शादी की खुशियां मातम में बदल गई।

rishi jaiswal
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned