1 करोड़ 70 लाख खर्च फिर नहीं पहुंच पाई पाइपलाइन

3 साल से बिछ रही नरसिंहगढ़ में पेयजल पाइप लाइन

By: Rajesh Kumar Pandey

Published: 10 Sep 2021, 09:46 PM IST

दमोह़. ग्राम पंचायत नरसिंहगढ़ द्वारा गांव 20 वार्डों को पाइप लाइन से पानी पहुंचाने के लिए पिछले 3 साल में 1 करोड़ 70 लाख रुपए खर्च कर दिए हैं, लेकिन अभी तक पूरे गांव के लिए पाइप लाइन नहीं पहुंच पाई है। जो लाइन बिछाई गई है, वह आधी-अधूरी होने से क्षतिग्रस्त हो गई है, जिससे जब नल खुलते हैं तो पानी बर्बाद होते हुए पूरे नरसिंहगढ़ में दिख जाता है, लेकिन लोगों को पानी नहीं मिल पाता है। जिससे आए दिन आपसी झगड़े भी होते रहते हैं।
नरसिंहगढ़ गांव में नलजल योजना के तहत कहीं पर 4 इंच तो कहीं 2 इंच की पाइप लाइन बिछाई गई है, जो गहराई में न बिछाई जाकर उथली बिछाई गई है, जिससे जगह-जगह पाइप लाइन दिखाई दे रही है। जिससे आए दिन वाहन फंसते रहते हैं। लगी बॉल्व खराब होती रहती है। कई जगह पाइप लाइन डैमेज भी हो रही है।
नरसिंहगढ़ के उपसरपंच प्रदीप मिश्रा, पंच अनिल पाठक ने बताया कि करोड़ों रुपए के कार्य ठेकेदार के हवाले कर दिए गए हैं, विभाग के उपयंत्री, एसडीओ व इइ कभी भी साइट विजिट नहीं करते हैं, जबकि हर माह विजिट के बिल बनाकर लाखों कमाते हैं, वहीं ठेकेदार से कमीशन लेते रहते हैं।
पीएचइ के उपयंत्री पांडेय का कहना है कि पाइप लाइन बिछाए जाने के लिए मानक गहराई 3 फीट की जानी है। यदि इतनी गहराई नहीं है तो इस पर सरपंच को आपत्ति उठाना चाहिए।
पंच भूरे आदिवासी, राजकुमार शर्मा, उपसरपंच प्रदीप मिश्रा, माया पटेल, संतोष साहू, सपना, मुन्ना दुबे ने कहा कि सही तरीके से पाइप लाइन डाली जाए।
13 वार्डों में ही आधा अधूरा काम
नरसिंहगढ़ ग्राम पंचायत के अंतर्गत 20 वार्ड हैं, जिनमें से 7 वार्ड मायसेम फैक्ट्री के दायरे में आते हैं, जहां पर फैक्ट्री प्रबंधन पानी की व्यवस्था करता है। जो पाइप लाइन का इस्टीमेट बनाया गया है। वह पूरे वार्डों का है, जब 7 वार्डों में पाइप लाइन नहीं बिछनी है तो वह राशि कहा गई इस पर गोलमाल है, पंच लगातार इस गोलमाल के खिलाफ लामबंद होकर आवाज उठा रहे हैं। सरपंच नेहा अठ्या का कहना है कि पीएचइ विभाग के ठेकेदार द्वारा पाइप लाइन बिछाने में मनमानी की जा रही है। कई बार विडियो बनाकर वरिष्ठ अधिकारियों को भेजे गए हैं, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई है, जिससे मनमाने तरीके से पाइप लाइन बिछाई जा रही है।

 
Rajesh Kumar Pandey Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned