MP Election News : बागी निर्दलीयों ने मचा दी कांग्रेस- भाजपा में खलबली

MP Election News : बागी निर्दलीयों ने मचा दी कांग्रेस- भाजपा में खलबली

Rajesh Kumar Pandey | Publish: Nov, 10 2018 11:52:23 AM (IST) | Updated: Nov, 10 2018 11:52:24 AM (IST) Damoh, Madhya Pradesh, India

भाजपा के स्टार प्रचारक 20 सीटों पर बिगाड़ेंगे भाजपा का खेल, वित्तमंत्री के चुनाव क्षेत्र में एक-एक वोट की होगी लड़ाई, आमने-सामने का मुकाबला बदल सकता है चतुष्कोणीय में

दमोह. विधानसभा चुनाव 2018 के मैदान में नामांकन के आखिरी दिन कांगे्रस- भाजपा ने अपने पत्ते खोल दिए हैं। वहीं दोनों दलों से टिकट न मिलने से नाराज बड़े नेताओं ने नूरा कुश्ती में निर्दलीय मैदान में उतरकर ताल ठोक दी है। जिससे कांग्रेस-भाजपा के प्रत्याशियों के माथे पर चिंता के बल पड़ रहे हैं।
सबसे बड़ी बगावत का बिगुल भाजपा के स्टार प्रचारक डॉ. रामकृष्ण कुसमरिया ने फूंका है। जिन्होंने दमोह व पथरिया दोनों विधानसभा से लडऩे के लिए निर्दलीय फार्म भरा है। इनका प्रभाव बुंदेलखंड की 20 सीटों पर सीधा होने से भाजपा को बड़ा नुकसान झेलना पड़ सकता है। शुक्रवार की सुबह वित्तमंत्री जयंत मलैया मनाने पहुंचे थे, जिनसे उन्होंने स्पष्ट मना कर दिया। इसके बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से बात कराई। जिन्होंने माना की गलती हुई है, बड़ा सम्मान करेंगे। जिस पर कुसमरिया ने दो टूक कह दिया कि अब लंगोट कस ली है। चुनाव में उतरेंगे जीतने के बाद दोनों सीटे भाजपा को ही समर्पित कर देंगे। जब फार्म भरने पहुंचे तो वहां उनकी पत्नी सुधा मलैया भी कुसमरिया से चर्चा करतीं नजर आईं। कुसमरिया के कुछ समर्थकों को खरी खोटी भी सुना दी। कुसमरिया के साथ फार्म भरवाने जिला पंचायत अध्यक्ष शिवचरण पटेल भी पहुंचे थे, वे जैसे ही दमोह विधानसभा के कक्ष में जाने लगे तो सुधा मलैया उन्हें खींचकर ले गईं। इधर रात्रि तक भाजपा प्रदेश संगठन के बड़े नेताओं के दमोह पहुंचने की जानकारी मिल रही है। बताया जा रहा है कि रामलाल या सुहाष भगत भी कुसमरिया को मनाने पहुंचने वाले हैं।
भाजपा प्रदेश मंत्री ने भी ठोकी ताल
जबेरा विधानसभा क्षेत्र से भाजपा के दूसरे बड़े नेता भाजपा के प्रदेश मंत्री राघवेंद्र सींग ऋषि लोधी ने दीपावली के दिन हजारों समर्थकों के बीच निर्दलीय मैदान में उतरने का ऐलान कर दिया था। जिन्होंने अपने समर्थकों के साथ शुक्रवार को नामांकन दाखिल कर दिया है। इनके मैदान में आने से मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी इन्हें मनाया है। बताया जा रहा है कि प्रदेश संगठन के बड़े नेता इन्हें भी मनाने इनके गांव पहुंचने वाले हैं।
जिला पंचायत अध्यक्ष भी मैदान में
पथरिया विधानसभा क्षेत्र से जिला पंचायत अध्यक्ष शिवचरण पटेल भी भाजपा से बागी हो गए हैं। उन्होंने पथरिया विधानसभा से फार्म भर दिया है, लेकिन यह माना जा रहा है कि यदि रामकृष्ण कुसमरिया पथरिया व दमोह दोनों विधानसभा से चुनाव लड़ते हैं तो शिवचरण पटेल उनके समर्थन में अपना फार्म वापस ले सकते हैं। शाम को इनके बंगले पर कार्यकर्ताओं के बीच मंथन चल रहा था।
आदित्य व तान्या पर संस्पेंस बरकार
जबेरा विधानसभा सीट से कांग्रेस की टिकट न मिलने से पूर्व मंत्री रत्नेश सॉलोमन के पुत्र आदित्य व तान्या सॉलोमन ने फार्म भरे हैं। अभी इनके बीच यह संस्पेंस बना हुआ है कि इनमें से कौन बागी होकर चुनाव लड़ेगा। तान्या पहले नामांकन भर चुकी हैं। आदित्य ने अंतिम दिन निर्दलीय फार्म जमा कर दिया है। अब देखना है कि इनमें से कौन अपना फार्म वापस लेता है।
प्रदीप खटीक भी आए मैदान में
हटा विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस के प्रबलतम दावेदार प्रदीप खटीक ने भी बगावत कर दी है। इनके साथ हटा कांग्रेस का पूरा संगठन बागी हो गया है। जिससे कांग्रेस प्रत्याशी के लिए अब स्थानीय कार्यकर्ताओं का संकट खड़ा हो गया है। इनके मैदान में आने से यहां त्रिकोणीय मुकाबला बन रहा है।
नाराज पिता-पुत्र ने छोड़ी कांग्रेस
ज्योतिरादित्य की हटा में सभा कराने वाले कांग्रेसी पिता पुष्पेंद्र सींग हजारी व पुत्र अनुराग वर्धन सिंह हजारी ने कांग्रेस पार्टी छोड़ समाजवादी पार्टी का दामन थाम लिया है। अनुराग वर्धन सींग हजारी ने पथरिया से सपा के सिबंल पर ताल ठोक दी है। 2008 में बसपा व 2013 के चुनाव में कांगे्रस से पिता पुष्पेंद्र हजारी स्वयं चुनाव लड़े और दूसरी पोजीशन पर रहे थे। इस बार उन्होंने सपा का दामन थाम लिया है।
बृजेंद्र राव भी हुए बागी
जिला पंचायत सदस्य बृजेंद्र राव ने भी पथरिया विधानसभा क्षेत्र से निर्दलीय फार्म भरकर कांग्रेस से बगावत का बिगुल फूंक दिया है। युवा नेता ने अपने समर्थकों के साथ पहुंचे। जिससे पथरिया में उन्होंने कांग्रेस प्रत्याशी के लिए भी मुश्किलें खड़ी कर दी हैं।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned