स्वयं कार्य मुक्त होने से पहले कर गए 7 जनशिक्षकों व बीएसी को कार्यमुक्त

स्वयं कार्य मुक्त होने से पहले कर गए 7 जनशिक्षकों व बीएसी को कार्यमुक्त

By: Sanket Shrivastava

Published: 17 Jun 2020, 11:04 PM IST

हटा. हटा बीआरसी शैलेंद्र सिंह को हटाने के लिए कलेक्टर तरुण राठी द्वारा आदेश जारी किया गया था। उन्होंने स्वयं कार्य मुक्त होने से पहले ब्लॉक के 7 जनशिक्षकों व 2 बीएसी को कार्यमुक्त कर दिया गया है।
कलेक्टर दमोह द्वारा बीआरसी के पद से शैलेंद्र सिंह को हटाने के आदेश जारी होते ही जनपद शिक्षा केंद्र में हड़कंप के हालात बन गए है। जिला प्रशासन पर दवाब बनाने के लिए कार्यमुक्त हुए बीआरसी ने अपने उसी दिन अपने अधीन 12 जनशिक्षकों में से 7 को पद मुक्त करने के आदेश जारी कर दिए हैं। इनके साथ ही दो बीएसी को भी पद मुक्त करने के आदेश जारी करते हुए पद रिक्त होने की सूचना जारी कर दी है। जिन जनशिक्षकों को पद मुक्त किया गया हैं, उनमें गजराज सिंग कांटी, कृपाल सिंह हिनौता, राजेश अहिरवार राजपुरा, हरिराम अहिरवार राजपुरा, प्यार मोहम्मद एमएलबी हटा, अनिल दुबे हिनौता, विनोद तिवारी कांटी के नाम शामिल है।
बीएसी गोपी तंतुवाय को हटाने का आदेश भी जारी किया गया है। जबकि दूसरे का आदेश अभी सार्वजनिक नहीं किया गया है। इनके बारे में बताया गया है कि इनका आदेश दमोह कार्यालय से जारी होने के कारण इन्हें वहीं से कार्य मुक्त किया जाएगा।
इस संबंध में कार्यमुक्त बीआरसी शैलेन्द्र सिंह का कहना है कि उन्हें जनशिक्षकों ने इस्तीफे दिए थे, जिसे स्वीकार कर कार्यमुक्त कर मूल शालाओं में भेजने के आदेश जारी किए हैं, जबकि एक बीएसी के त्यागपत्र को जिला कार्यालय भेजा जा रहा है। हालांकि कार्यालय में किसी के भी त्यागपत्र उपलब्ध होने की बात पर उनका कोई जवाब नहीं मिला।
जारी आदेश में सभी के अस्थाई कार्य सौंपे जाने का हवाला तो दिया गया है, लेकिन कार्यमुक्ति के संबंध में उनके द्वारा त्यागपत्र स्वीकृत करने जैसी किसी बात का उल्लेख नहीं है। सीधे-सीधे जनशिक्षकों को कार्य मुक्त करने का आदेश दिया गया है। जनशिक्षक प्यार मुहम्मद का कहना है कि उन्होंने पद से इस्तीफा नही दिया है, कार्यालय जाकर पता करते है कि उन्हें किस आधार पर कार्यमुक्त किया गया है।

Sanket Shrivastava
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned