scriptAbhana road jammed for half an hour due to non-procurement of paddy | धान खरीदी न किए जाने पर आधा घंटे अभाना मार्ग किया जाम | Patrika News

धान खरीदी न किए जाने पर आधा घंटे अभाना मार्ग किया जाम

खरीदी की आखिरी तारीख को नहीं पहुंचे किसानों को मैसेज

दमोह

Published: January 15, 2022 08:45:04 pm

दमोह. धान समर्थन मूल्य पर खरीदी के लिए 15 जनवरी आखिरी तारीख थी, इस दिन जिले के सभी खरीदी केंद्रों पर अपनी धान को जमा कराने के लिए किसान मशक्कत करते नजर आए। खरीदी केंद्र अभाना पर सुबह 9 बजे तक खरीदी शुरू न होने पर किसानों ने तेंदूखेड़ा-अभाना मार्ग पर चकाजाम किया। करीब आधा घंटे तक इस रूट पर वाहनों के पहिए थमे रहे। नोहटा पुलिस के पहुंचने के बाद खरीदी शुरू हुई तो जाम खोला गया। वहीं मिल रही शिकायतों की जांच करने भोपाल से नागरिक आपूर्ति निगम के ज्वाइंट डायरेक्टर ने भी धान खरीदी केंद्रों का निरीक्षण किया।
दमोह जिले में धान खरीदी केंद्रों पर शुरुआती दौर से ही अव्यवस्थाएं सामने आती रही हैं। खरीदी केंद्रों से लगातार किसानों के साथ अनाधिकृत वसूली, मैसेज न भेजे जाने की शिकायत किसान लगातार करते रहे हैं। वहीं किसानों के बजाए व्यापारियों की धान खरीदी किए जाने के आरोप लगते रहे हैं। इसके अलावा व्यापारियों की कचरायुक्त व अमानक धान भी गोदामों में पहुंचाई गई है।
बारिश से खरीदी केंद्रों पर नहीं हुई खरीदी
मावठी बारिश के कारण कलेक्टर के निर्देश पर खरीदी केंद्रों पर धान नहीं खरीदी गई, जिससे जिन किसानों के लिए मैसेज भेजे गए थे, उनकी धान की तुलाई भी नहीं हो पाई। मौसम साफ हुआ और अंतिम तारीख नजदीक आई तो किसान अपनी धान लेकर पहुंचने लगे थे, लेकिन इस बीच कहीं बारदाना नहीं तो कहीं हम्माल नहीं सहित अन्य बहाने बनाए जाने लगे जिससे किसानों को सड़कों पर आने के लिए विवश होना पड़ा है।
रात में हो रही व्यापारियों की तुलाई
किसानों का कहना है कि धान खरीदी केंद्रों पर व्यापारियों की अमानक धान तौली जा रही है, जबकि वास्तविक किसान अपनी धान दिन में लेकर पहुंचते हैं, अभाना खरीदी केंद्र के प्रबंधक का कहना था कि यहां रात भर तुलाई चलती रही है, इसलिए सुबह से तुलाई नहीं होगी, जिससे किसानों में रोष बढ़ गया था और सड़क पर जाम लगा दिया था।
हर साल धान खरीदी में होती गड़बड़ी
धान खरीदी केंद्रों में समिति प्रबंधक, ऑपरेटरों व सर्वेयरों द्वारा हर साल गड़बड़ी की जाती है, गड़बड़ी की लगातार शिकायतों के बाद भी उन्हीं के हाथों में फिर खरीदी का जिम्मा सौंपा जाता है। जिससे किसानों से हम्माली खर्च सहित अन्य खर्चें कराए जाते हैं, मैसेज भेजने व धान तुलाई के बाद चढ़ाने के लिए पैसे लिए जाते हैं, लगातार होने वाली शिकायतों पर कार्रवाई न होने से फिर से उन्हीं हाथों में काम सौंप दिया जाता है जिन पर पिछली धान खरीदी में आरोप लगे होते हैं।
खरीदी से वंचित रह गए अनेक किसान
धान खरीदी केंद्रों पर जो वास्तविक किसान थे और उनकी 150 क्विंटल से लेकर 450 क्विंटल धान थी उनको आखिरी तारीख तक मैसेज नहीं मिल पाए हैं, जबकि कलेक्टर ने कहा था कि 90 फीसदी किसानों को मैसेज भेज दिए गए हैं। वहीं अब किसानों की यह मांग है कि जो मौसम खराबी के कारण एक सप्ताह तक खरीदी नहीं हो पाई हैं। उस अंतराल के लिए खरीदी की तारीख आगे बढ़ाई जाए।
ज्वाइंट डायरेक्टर ने कहा सेकंड मैसेज आएंगे
नागरिक आपूर्ति निगम भोपाल से ज्वाइंट डायरेक्टर शशांक मिश्रा भी दमोह पहुंचे जिन्होंने विभिन्न धान खरीदी केंद्रों का निरीक्षण किया। जिसमें उन्होंने पाया कि जिन किसानों को मैसेज नहीं पहुंच पाए हैं, उनके मैसेज राज्य शासन से चर्चा कर पोर्टल खुलवाकर भिजवाए जाएंगे। इसके बाद उन्होंने धान खरीदी केंद्रों पर चल रहीं गड़बडिय़ों के आरोप से अनभिज्ञता जताते रहे, वहीं यह भी कहा कि यदि शिकायत मिलेगी तो कार्रवाई की जाएगी।
Abhana road jammed for half an hour due to non-procurement of paddy
Abhana road jammed for half an hour due to non-procurement of paddy
 

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

विराट कोहली ने छोड़ी टेस्ट टीम की कप्तानी, भावुक मन से बोली ये बातAssembly Election 2022: चुनाव आयोग ने रैली और रोड शो पर लगी रोक आगे बढ़ाई,अब 22 जनवरी तक करना होगा डिजिटल प्रचारभारतीय कार बाजार में इन फीचर के बिना नहीं बिकेगी कोई भी नई गाड़ी, सरकार ने लागू किए नए नियमUP Election 2022 : भाजपा उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी, गोरखपुर से योगी व सिराथू से मौर्या लड़ेंगे चुनावPunjab Assembly Election: कांग्रेस ने जारी की 86 उम्मीदवारों की पहली सूची, चमकोर से चन्नी, अमृतसर पूर्व से सिद्धू मैदान मेंबेमिसाल करियर, हैरान कर देने वाला है विराट कोहली का टेस्ट कप्तानी रिकॉर्डYouTube ला रहा नया फीचर: अब बिना बिना डाटा के हर सप्ताह खुद डाउनलोड होंगे 20 वीडियोSBI ने बढ़ाई फिक्स्ड डिपॉजिट पर ब्याज दर, जानिए क्या है नई दरें
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.