दुष्कर्म के आरोपी तक पहुंची पुलिस, गिरफ्तारी व खुलासा आज संभव

अधिवक्ता संघ भी आया सड़कों पर

By: lamikant tiwari

Published: 20 Jul 2018, 11:07 AM IST

दमोह. शहर के पथरिया फाटक क्षेत्र के एक सामूदायिक भवन के पास मिली नवजात की पहचान होने के बाद तथा आरोपी तक पहुंचने सीसीटीवी का सहारा लिया गया। तो आरोपी तक पहुंचने में पुलिस को सफलता मिलती नजर आ रही है। एसपी ने आरोपी कीह शिनाख्त होने का दावा करते हुए कहा है कि उसे जल्द ही गिरफ् तार कर लिया जाएगा।

शहर के पथरिया फाटक लोको क्षेत्र के एक सामूहिक भवन के पास मिली नवजात की पहचान होने के बाद उसकी उम्र परिजनों के अनुसार एक साल दस माह होना बताया है। पहले जब मासूम की शिनाख्त नहीं हुई थी, उस समय मासूम की उम्र करीब 4 वर्ष मानी जा रही थी। लेकिन परिजनों का पता लगने के बाद उसकी उम्र 1 साल 10 माह बताई गई। मूल जन्माष्टमी को जन्मी मासूम आगामी जन्माष्टी को दो वर्ष की हो जाएगी। मासूम के साथ दुराचार करने वाले आरोपी का सीसीटीवी फुटेज जारी होने के बाद पुलिस आरोपी तक पहुंचने का दावा कर रही है। माना जा रहा है कि आरोपी तक पहुंचने के लिए पुलिस की अलग-अलग टीमें उसे गिरफ्तार करने के लिए तीन अलग-अलग क्षेत्रों में रवाना हो गईं हैं।
सीसीटीवी में दिखाई दिया आरोपी -
रेलवे स्टेशन पर मासूम को सोते समय से उठाकर ले जाने वाले आरोपी का सीसीटीवी फुटेज जारी होने के बाद उसकी पहचान के लिए पुलिस की ओर से फुटेज जारी किया गया। फुटेज जारी होते ही जंगल में आग की तरह फैल गया। हर किसी ने सोसल मीडिया पर वायरल करते हुए आरोपी की पहचान के लिए मानो क्रांति ला दी। हर कोई आरोपी को पहचानने के लिए एक दूसरे को फुटेज व उससे प्राप्त होने वाली फोटो दिखाता रहा। महिलाओं के वॉट्सएप ग्रुप से लेकर फेसबुक ग्रुपों में भी आरोपी का सीसीटीवी फुटेज चलता रहा। हर कोई पहचानने के लिए बेताब रहा। आखिरकार पुलिस के कानों तक उस आरोपी की भनक लग गई। जिसने इस घटना को अंजाम दिया। हालांकि पुलिस ने अभी यह स्पष्ट नहीं किया है कि आरोपी आखिर है कौन।

चलती रही मंत्रणा -
एसपी विवेक अग्रवाल से लेकर सभी पुलिस अधिकारियों की दिन भर मंत्रणा चलती रही। आरोपियों तक पहुंचने के लिए तत्काल तीन टीमों का गठन किया गया। जिन्हें अलग-अलग क्षेत्रों के लिए रवाना किया गया। मामले में कोतवाली थाना प्रभारी अरविंद सिंह दांगी का कहना है कि आरोपी तक लगभग पुलिस पहुंच चुकी है। तीन टीमों को रवाना किया गया है। जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

इनाम घोषित किया -
एक साल १० माह की मासूम के साथ दिल दहला देने वाली दर्दनाक घटना की जानकारी मिलते ही आइजी सतीषचंद्र सक्सैना ने आरोपी को पकड़वाने वाले को २५ हजार रुपए देने की घोषणा कर दी थी।

इन्होंने भी की घोषणा -
स्थानीय पीजी कॉलेज के जनभागीदारी समिति अध्यक्ष सतीष तिवारी ने मासूम के साथ हुई दर्दनाक घटना को लेकर घोषणा की है कि जो भी व्यक्ति आरोपी का पता बताएगा या उसे गिरफ्तार कराएगा उसे २१ हजार रुपए का इनाम दिया जाएगा।

वकीलों ने रैली निकाल सौंपा ज्ञापन-
मासूम के साथ दुराचार होने वाली दर्दनाक घटना को लेकर जिला अधिवक्ता संघ अध्यक्ष पं. कमलेश भारद्वाज ने सभी अधिवक्ताओं के साथ रैली निकाली। हाथों में बैनर पोस्टर लिए वकीलों ने शहर के मुख्य मार्गों से रैली निकालने के बाद एसपी व कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा। महिला अधिवक्ताओं ने भी घटना पर तीखी प्रतिक्रिया देते हुए ऐसे आरोपी को फांसी की सजा देने की मांग की। मौजूद अधिकांश वकीलों ने इस तरह के प्रकरण में दोषी की ओर से केस लडऩे पर भी इसे अपने मन के विपरीत बताया। एसपी व कलेक्टर को सौंपे गए ज्ञापन में वकीलों ने आरोपी को जल्द गिरफ्तार कर कड़ी सजा दिलाए जाने की बात कही है।

आरोपी जल्द ही होंगे हिरासत में-
आरोपी की तलाश में टीमें लगी हुई हैं। पुलिस के हाथ आरोपी तक पहुुंच चुके हैं। तीन टीमें तलाशी में लगी हुृई हैं। जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।
विवेक अग्रवाल-पुलिस अधीक्षक

Show More
lamikant tiwari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned