बगावत कर नहीं माने बाबाजी, वित्तमंत्री व पथरिया विधायक के खिलाफ ठोकी ताल

बगावत कर नहीं माने बाबाजी, वित्तमंत्री व पथरिया विधायक के खिलाफ ठोकी ताल

Laxmi Kant Tiwari | Publish: Nov, 10 2018 12:04:32 PM (IST) Damoh, Damoh, Madhya Pradesh, India

अब बाबा को मनाने केंद्र से आ रहे बड़े नेता

दमोह. पांच बार विधायक व पांच बार सांसद रहे वर्तमान में बुंदेलखंड विकास प्राधिकरण अध्यक्ष डॉ. रामकृष्ण कुसमरिया 'बाबा जीÓ ने दमोह व पथरिया से आखिरी दिन नामांकन दाखिल किया है। कुसमरिया ने एक दिन पूर्व ही पत्रकार वार्ता आयोजित करते हुए पार्टी से बगावत कर दमोह व पथरिया से नामांकन दाखिल करने की घोषणा की जिसकी जानकारी लगते ही दमोह विधानसभा से नामांकन दाखिल कर चुके वित्तमंत्री जयंत मलैया शुक्रवार सुबह सीधे एसपीएम नगर डॉ. कुसमरिया के निवास पर पहुंचे। जिन्होंने बात की। बाबाजी को मनाने के लिए आज केंद्र से भाजपा के बड़े नेता दमोह पहुंच रहे हैं। जिन्होंने बाबाजी को हर संभव नामांकन वापस लेने दबाव बनाकर मनाने का संकल्प लिया है। हालांकि आज तय हो जाएगा कि बाबाजी को मनाने किस तरह से प्रयास करने में बड़े नेता सफल होंगे या फिर बाबाजी कोप भवन में ही रहकर चुनावी बिसात में अपना हट दिखाएंगे।

नहीं माने 'बाबा जी -
मामले में डॉ. रामकृष्ण कुसमरिया का कहना है कि वह लंबे समय से राजनीति कर रहे हैं। शुरू से ही बीजेपी से जुड़े रहे। इसके बाद भी उनके साथ कुछ लोगों द्वारा षडयंत्र रचा जाता रहा। यही कारण है कि उन्होंने षडयंत्र रचने वालों के खिलाफ चुनाव लडऩे का मन बनाया है और उन्होंने दमोह व पथरिया से नामांकन दाखिल कर चुनाव लडऩे का फैसला किया है। कुसमरिया ने बताया कि उनके निवास पर शुक्रवार सुबह जयंत मलैया आए थे। जिन्होंने चुनाव न लडऩे की बात कही थी। लेकिन उन्होंने दो टूक मना कर दिया था। इस बीच जिला पंचायत के अध्यक्ष शिवचरण पटैल भी मौजूद थे। जाते समय जयंत मलैया का चेहरा तमतमाया हुआ दिखाई दे रहा था। जाते समय कुसमरिया उन्हें बाहर छोडऩे तक नहीं आए।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned