दूसरों को बचाने के लिए पिता ने किया यह काम, देखें Video

Samved Jain

Updated: 04 Dec 2019, 06:19:04 PM (IST)

Damoh, Damoh, Madhya Pradesh, India

दमोह. दमोह जिले तेजगढ़ में रहने वाले शिक्षक महेंद्र दीक्षित के जवान बेटे लकी की सड़क दुर्घटना में मौत हो जाती है। जवान बेटे की असमय मौत के बाद पिता को गहरा सदमा पहुंचा है। लकी की मौत के बाद कुछ दिनों तक गुमसुम रहने वाले पिता ने अब पुत्र के तेरहवीं कार्यक्रम में दूसरों के बच्चे को सलामत रखने का बीड़ा उठाया है। उन्होंने युवाओं को हेलमेट तो वितरित किए ही, साथ ही बिना हेलमेट और सुरक्षा के वाहन न चलाने की नसीहत भी दी। बेटे की इच्छा पूर्ति के लिए भी नि:शुल्क कॅरियर गाइडेंस क्लास शुरू करने की बात कही है। बेटे की मौत पर पिता द्वारा दी गई इस मिसाल की सभी ने सराहना की हैं।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned