जरा बच कर चलना, इस शहर में बिजली के खंभों से टकराते हैं भारी वाहन

जरा बच कर चलना, इस शहर में बिजली के खंभों से टकराते हैं भारी वाहन

lamikant tiwari | Publish: Aug, 12 2018 01:57:39 PM (IST) Damoh, Madhya Pradesh, India

शहर में रुक नहीं रहीं दुर्घटनाएं

दमोह. शहरी क्षेत्र में विद्युत पोल से भारी वाहनों के टकराने की घटनाएं लगातार बढ़ती जा रहीं हैं। शहर के हृदय स्थल घंटाघर के समीप एक सप्ताह पूर्व ही एक निजी यात्री बस ने बिजली के खंभे में सीधी टक्कर मार दी थी। जिससे खंभा बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया था। उसके बाद एक बार फिर शहर में ही सुभाष कॉलोनी क्षेत्र में एलआइसी दफ्तर के सामने एक क्रेन ने विद्युत पोल में टक्कर मार दी। जिससे खंभा क्षतिग्रस्त हो गया। केबिल जमीन पर गिरने के साथ क्षेत्र के लोगों को विद्युत संकट का सामना करना पड़ा।
ऐसे हुआ हादसा -
मामले में स्थानीय निवासी सुरेंद्र, पवन, मोहन, गणेश, प्रकाश सहित अन्य लोगों का कहना था कि रहवासी क्षेत्र होने के बाद भी यहां पर भारी वाहनों का जमकर आवागन होता है। शनिवार सुबह करीब 8 बजे के लगभग एक क्रेन तेजगति से निकली। जिसमें काफी ऊंचाई तक सामान रखे होने के कारण विद्युत पोल से की लीड क्रेन के ऊपरी हिस्से में फंस गई। जिससे देखते ही देखते विद्युत पोल में लगी लीड जमीन पर गिरने लगी।
बड़ा हादसा टला -
मामले में प्रत्यक्षदर्शियों का कहना था कि जिस समय क्रेन निकली उसी दौरान बच्चों को स्कूल लेकर जा रहे दो ऑटो निकल रहे थे। लेकिन भाग्यवश खंभा या केबिल ऑटो के ऊपर नहीं गिरी नहीं तो किसी बड़े हादसे को टाला जाना बहुत ही मुश्किल होता। इसके अलावा सामने बनी दुकान पर भी कई लोग मौजूद थे। जो करंट से बच गए। सुबह होने के कारण लोगों का आवागमन भी चल रहा था। लेकिन क्रेन के कारण लोगों ने साइड दे दी थी। अन्यथा वह भी करंट की चपेट में आ जाते।
उसी क्रेन का लिया सहारा-
घटना की जानकारी के बाद बिजली विभाग की टीम तुरंत ही मौके पर पहुंची। जिन्होंने पहले बिजली सप्लाई बंद कराई उसके बाद सुधार कार्य कराया। इस बीच करीब तीन घंटे लोगों को बिजली कटौती का सामना करना पड़ा। मामले में मेंटीनेंस प्रभारी डीआर देशमुख का कहना है कि उन्हें जानकारी लगने के बाद वह टीम के साथ पहुंचे थे। जिन्होंने सुधार कराने के बाद सुबह करीब ११.३० पर बिजली सप्लाई चालू करा दी थी। जिस क्रेन से घटना हुई थी उसी से खंभे को सीधा करके लाइट चालू करा दी थी।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned