scriptElectric wires are swinging on the roads | सड़को पर झूल रहे हैं बिजली के तार, किसी भी समय हो सकते हैं हादसों का शिकार | Patrika News

सड़को पर झूल रहे हैं बिजली के तार, किसी भी समय हो सकते हैं हादसों का शिकार


सबसे खराब स्थिति घंटाघर को दूर से अथवा ऊंचाई से देखने पर सामने आती है.....

दमोह

Published: December 02, 2021 05:14:01 pm

दमोह। शहर में बिजली की लाइन बिछाते समय लोगों की सुरक्षा का ध्यान नहीं रखा गया है। स्थिति यह है कि कई जगह हाईटेंशन लाइनें सड़कों को क्रॉस कर रही हैं। इन स्थानों पर विद्युत निगम की ओर से गार्डिंग नहीं कराई गई है। तार टूटने की स्थिति में बड़ा हादसा होने की संभावना हर समय बनी रहती है। वहीं शहर में कई जगह बिजली के तार झूल रहे हैं।

old_feedspjirlarti8t8pgcfgodowitqbm6oqgtk.jpg
Electric wires

शहर के हृदयस्थल कहे जाने वाले घंटाघर, जो पुरात्तव की धरोहर भी कही जा सकती है, यह स्थल दिनोंदिन अपने वास्तविक स्वरूप को खोता जा रहा है। दरअसल घंटाघर के चारों तरफ लोगों द्वारा अपने प्रतिष्ठानों, अपने कार्यक्रमों, धार्मिक आयोजनों के पंपलेट चिपका दिए जाते हैं, तो कई बार यहां पर शराबी तत्व यहां स्थापित प्रतिमा को नुकसान पहुंचा देते हैं। घंटाघर की दुर्दशा सिर्फ इतने तक ही सीमित नहीं है।

चोरों तरफ बिजली के तार

सबसे खराब स्थिति घंटाघर को दूर से अथवा ऊंचाई से देखने पर सामने आती है। दूर से देखने में घंटाघर बिजली तारों, केबलों के सहारे झूलता नजर आ रहा है घंटाघर की ऊपरी मंजिल के चारों तरफ बिजली तारों, इंटरनेट, टीवी केबल बंधी हुई हैं। जिससे घंटाघर इन तारों केबलों के सहारे झूलता प्रतीत हो रहा है। जर्जर बिजली के तारों से अक्सर घटनाएं होती रहती हैं। बंदर पूरे दिन तारों पर झूलते रहते हैं। जिससे बिजली के तार अक्सर टूट जाते हैं। तार तेज हवा व आंधी के समय वह आपस में टकराते हैं। जिससे स्पार्किंग होने से चिंगारिया निकलतीं हैं। जिससे आग लगने का खतरा भी बना रहता है।

सबसे प्रमुख बात यह है कि शहर की सबसे पुरानी पहचान होने के बाद भी इस घंटाघर की दुर्दशा को रोकने के लिए न ही किसी राजनीतिक का ध्यान गया है और न ही समाजसेवी संस्था, या प्रशासन द्वारा ध्यान दिया गया है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Subhash Chandra Bose Jayanti 2022: इंडिया गेट पर लगेगी नेताजी की भव्य प्रतिमा, पीएम करेंगे होलोग्राम का अनावरणAssembly Election 2022: चुनाव आयोग का फैसला, रैली-रोड शो पर जारी रहेगी पाबंदीगोवा में बीजेपी को एक और झटका, पूर्व सीएम लक्ष्मीकांत पारसेकर ने भी दिया इस्तीफाUP चुनाव में PM Modi से क्यों नाराज़ हो रहे हैं बिहार मुख्यमंत्री नितीश कुमारPunjab Election 2022: भगवंत मान का सीएम चन्नी को चैलेंज, दम है तो धुरी सीट से लड़ें चुनाव20 आईपीएस का तबादला, नवज्योति गोगोई बने जोधपुर पुलिस कमिश्नरइस ऑटो चालक के हुनर के फैन हुए आनंद महिंद्रा, Tweet कर कहा 'ये तो मैनेजमेंट का प्रोफेसर है'खुशखबरी: अलवर में नया सफारी रूट शुरु हुआ, पर्यटन को मिलेगा बढ़ावा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.