Breaking भाजपा के इस दिग्गज नेता पर मामला दर्ज, इन विधायकों के नाम भी शामिल

Breaking भाजपा के इस दिग्गज नेता पर मामला दर्ज, इन विधायकों के नाम भी शामिल

Samved Jain | Updated: 12 Jun 2019, 06:48:08 PM (IST) Damoh, Damoh, Madhya Pradesh, India

सरकार के विरोध में प्रदर्शन करना पड़ा महंगा, उपद्रव और मार्ग अवरोध करने की धाराओं के तहत किया गया प्रकरण दर्ज, एक दिन पहले दमोह में सड़क पर बिजली कटौती के विरोध में किया गया था प्रदर्शन

दमोह. भारतीय जनता पार्टी के दिग्गज नेता पूर्व मंत्री, विधायक द्वय और भाजपा जिलाध्यक्ष सहित अन्य पदाधिकारी कार्यकर्ताओं पर दमोह पुलिस ने विभिन्न धाराओं के तहत प्रकरण दर्ज किया है। प्रकरण दर्ज होने से नेताओं की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। यह मामला एक दिन पहले सरकार के विरोध में सड़क पर हुए प्रदर्शन मामले में हुआ है। जिसमें भीड़ जोड़कर उपद्रव कराने और मार्ग अवरुद्ध करने की धाराओं के तहत प्रकरण दर्ज किया गया है।

 

दमोह पुलिस अधीक्षक विवेक सिंह ने बताया कि भाजपा द्वारा बिजली कंपनी कार्यालय के सामने मंगलवार को प्रदर्शन किया गया था। जिसमें चक्काजाम किया गया था, उसके आधार पर कुछ लोगों के विरुद्ध नामजद व अन्य के विरुद्ध एफआईआर दर्ज की गई है। धारा 341, 147 आईपीसी के तहत प्रकरण दर्ज किया गया है। नामजद में पूर्व मंत्री जयंत मलैया,जबेरा विधायक धर्मेन्द्र सिंह, हटा विधायक पीएल तंतुवाय, भाजपा जिलाध्यक्ष देवनारायण श्रीवास्तव के नाम शामिल है। जबकि शेष को पहचान तक अन्य में रखा गया है। पुलिस वीडियो देखकर भीड़ में मौजूद लोगों की पहचान कर रही है।

 

Fir on Jayant malaiya

बिजली कटौती के विरोध में हुआ था प्रदर्शन
मंगलवार को बिजली कटौती सहित अन्य समस्याओं को लेकर भाजपा ने बिजली कंपनी के कार्यालय के सामने प्रदर्शन किया था। इस दौरान जबलपुर-दमोह नेशनल हाइवे सुबह ११ बजे से १२ बजे के बाद तक वाधित रहा था। इस दौरान पूर्व मंत्री जयंत मलैया, विधायक धर्मेंद्र सिंह, पीएल तंतुवाय, भाजपा जिलाध्यक्ष देवनारायण श्रीवास्तव सहित बड़ी संख्या में भाजपा पदाधिकारी, कार्यकर्ताओं की मौजूदगी रही। कार्यक्रम के दौरान भाजपाईपों ने सड़क पर जमकर प्रदर्शन, नारेबाजी भी की थी। इस कार्यक्रम के दौरान आम जनता को परेशानी का सामना करना पड़ा था। जिसे देखते हुए यह कार्रवाई की गई है।

भाजपा नेताओं पर प्रकरण दर्ज होने के बाद दमोह में एक बार फिर राजनैतिक माहौल गरम हो गया है। मामले में अब तक पूर्व वित्त मंत्री और भाजपा की तरफ से कोई भी बयान सामने नहीं आया है। इधर सोशल पर भी इसे लेकर बहस शुरू हो गई है। यहां बता दें कि दमोह विधायक राहुल सिंह ने भी गत दिवस बिजली कटौती कराने में भाजपा पर आरोप लगाए थे। जबकि वित्त मंत्री तरुण भानेत ने तो जयंत मलैया पर ही बिजली गुल करवाने का आरोप लगा दिया था। इसके बाद से राजनीति में काफी हलचल है।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned