43.6 डिग्री तापमान में ट्रॉली के नीचे रहने मजबूर अन्नदाता

प्लास्टिक के डिब्बों में गर्म पानी पी रहे

By: Rajesh Kumar Pandey

Published: 10 May 2020, 07:07 AM IST

हटा. हिनौता साइलो पर दो ग्रीन कार्ड से खरीदी की जा रही है, लेकिन इसके बावजूद यहां पर लंबी कतारे लगी हैं। शनिवार को 43.६ डिग्री तापमान में किसान ट्रॉली के नीचे ही भोजन कर रहे थे। कुछ किसान आराम कर रहे थे। यह सिलसिला दो तीन दिन से जारी है। जिससे यहां तीन किमी लंबी लाइन लग गई है।
हटा पटेरा क्षेत्र की १० समितियों द्वारा हिनौता साइलो केंद्र पर खरीदी की जा रही है। किसान मैसेज प्राप्त होने पर अपनी उपज लेकर पहुंच रहे हैं, लेकिन यहां दो तीन दिन से लंबी कतारे लगी हैं।
हिनौता के नकटी के पास बने सायलो केंद्र मे गैसाबाद और सकौर के बीच लगभग तीन किलोमीटर दूर तक ट्रैक्टर मे अपनी उपज रखें अपनी बारी का इंतजार करते देखा जा रहा है। पहले यह ट्रैक्टर साइलो केंद्र के क्षेत्र पर खडे होकर ही अपनी बारी का इंतजार करते रहते थे, लेकिन धीर-धीरे यह ट्रैक्टर दमोह पन्ना मुख्य मार्ग पर भी खड़े होकर अपनी बारी का इंतजार कर रहे हैं।
भीषण गर्मी में किसान परेशान
साइलो केंद्र में भले ही पानी की व्यवस्था हो लेकिन केन्द्र के बाहर लगी तीन किमी लंबी लाइन में किसानों के लिए पानी की भी व्यवस्था नहीं है। जैसे तैसे किसान गर्म डिब्बों में पानी ला रहे हैं। भोजन का इंतजाम होने पर ट्रैक्टर टाली के नीचे भोजन कर रहे हैं।
24 घंटे से कर रहे इंतजार
पटेरा 40 किमी दूर से किसान संतोष ठाकुर शुक्रवार की दोपहर यहां पहुंचा था, लेकिन शनिवार की शाम तक 24 घंटे होने पर भी उनका नंबर नहीं आया है, कतार इतनी लंबी है कि रविवार को ही तुलाई होने की उम्मीद है।
घर से लाया हुआ खाना खत्म
किसान मोहन लाल ठाकुर ने कहा कि हम कुछ खाने का सामान लाए थे। जो आज खत्म हो गया है। अब बारी का इंतजार करते हुए भूखे ही रहना होगा। ट्रैक्टर ट्राली छोड़कर नहीं जा सकते हैं, दुकानें भी नहीं खुली हैं कि कुछ खरीद लें।
5 घंटे की जगह तीन दिन
गैसाबाद के किसान बृजेश पटेल ने बताया कि हमें जानकारी लगी थी कि साइलो केंद्र मे तुरंत ही चार पांच घंटे में तौल कराकर घर लौट जाते हैं, लेकिन ऐसा नहीं हो रहा है। तुलसीराम पटेल वर्धा ने बताया कि अपनी उपज के साथ पूरी रात ट्रैक्टर के पास सड़क पर सोकर रात बिताना पड़ी है। राजकिशोर पटेल ने बताया कि गर्मी में अपनी उपज के साथ तपती दोपहर मे रहना पड़ रहा है। साथ ही बार-बार मौसम खराब हो रहा है। ट्राली में खुला गेहूं भीगने की अंदेशा बन रहा है।

 
Rajesh Kumar Pandey Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned