स्वच्छ शहरों में शुमार होने नपा ने झौंकी पूरी ताकत

सुबह से लेकर मध्य रात्रि तक शहर में लग रही है झाड़ू

By: Rajesh Kumar Pandey

Published: 07 Jan 2019, 07:25 AM IST

दमोह. स्वच्छता सर्वेक्षण 2019 के लिए दमोह शहर में सफाई की परीक्षा के अंक देने के लिए दल की आमद होने वाली है। नगर पालिका परिषद द्वारा वार्ड स्तर से लेकर शहरी क्षेत्र तक सफाई रखने के लिए जागरुकता अभियान शुरू किए, साथ ही सफाई अमले ने पूरी ताकत लगा दी है। जिससे सुबह से लेकर मध्य रात्रि तक शहर की सड़कों पर सफाई अभियान जारी है। स्वच्छता सर्वेक्षण 2019 में नगर पालिका परिषद द्वारा इस बार बच्चों के माध्यम से अभिभावकों के लिए स्वच्छता के प्रति जागरुक किया जा रहा है। स्कूलों में चित्रकला प्रतियोगिताएं आयोजित की गईं। बच्चों ने स्वच्छ शहर की कल्पना कर एक से बढ़कर एक चित्र उकेरे। इसके साथ ही विद्यार्थियों को पुरस्कृत किया गया। शहर के सभी स्कूलों में लगातार प्रतियोगिताएं आयोजित की गईं।
इस बीच नपा अध्यक्ष मालती असाटी ने विद्यार्थियों को जागरुक किया कि सफाई की आदत बच्चों को ही डालनी होती है, उन्होंने कहा कि बच्चे घर में ही पैकेट में खाद्य सामग्री खाते हैं और पैकेट यहां-वहां फैंक देते हैं, जिसे घर के बड़े या सफाई वाली साफ करती हैं, जबकि बच्चों को यह आदत डालना चाहिए कि जो भी कचरा हो वह डस्टबिन में डालें और डस्टबिन का कचरे को नपा की कचरा गाड़ी या वार्डों में रखे डस्टबिन में पहुंचाएं। लगातार प्रतियोगिताओं का असर यह देखा गया कि शहर में यहां-वहां फैंके जाने वाले कचरे को डस्टबिन से डस्टबिन तक पहुंचाए जाने के प्रयास होने लगे हैं। सीएमओ कपिल खरे ने भी पूर्व की तरह फिर से पूरी ताकत झौंकते हुए स्वच्छ शहरों की सूची में आने के लिए सारे एफर्ट लगा दिए हैं। मुख्य स्वास्थ्य अधिकारी पीके चावला के नेतृत्व में सफाई अमला लगातार शहर से कचरा उठाने में लगा हुआ है।
टॉप सूची के 5000 की सीमा रेखा
सर्टिफिकेशन, स्टार रेटिंग, ओडीएफ, ओडीएफ 1250, सर्विस लेवल प्रोग्रेस 1250, डायरेक्ट ऑब्जर्वेशन 1250 व सिटीजन फीडबैक 1250 इस तरह कुल 5000 अंक की सीमा रेखा रखी है। इसके नजदीक जिस शहर को अंक मिलेंगे वह देश के स्वच्छ शहरों में शुमार हो जाएगा।
हम होंगे कामयाब
नपा सीएमओ कपिल खरे का कहना है कि हमने स्वच्छता सर्वेक्षण 2019 के लिए पूरी ताकत लगा दी है, नपा के पास जो उपलब्ध संसाधन हैं, उनसे हम अपनी रैकिंग बनाने के लिए मेहनत कर रहे हैं। टीम आ रही है, हम बेहतर प्रयास कर रहे हैं जिससे हमें कामयाबी भी मिलेगी।

Rajesh Kumar Pandey Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned