हाई कोर्ट के बाहर से महिला को भगाकर ले जाने वाले आरोपी की तलाश में जुटी पुलिस

हाई कोर्ट के बाहर से महिला को भगाकर ले जाने वाले आरोपी की तलाश में जुटी पुलिस

Laxmi Kant Tiwari | Publish: Sep, 09 2018 12:24:38 PM (IST) Damoh, Madhya Pradesh, India

पिता ने लगाई थी हाइकोर्ट में गुहार आदेश पर एसडीओपी जांच में जुटे

तेंदूखेड़ा. जेल में बंद एक आरोपी द्वारा बाहर निकलने के बाद दूसरे आरोपी की पत्नी को लेकर जबलपुर हाई कोर्ट परिसर से भाग गया। जिसके बाद हाई कोर्ट ने आरोपी सहित महिला को तलाशने के आदेश तेंदूखेड़ा एसडीओपी को दिए हैं। आदेश होने के बाद शुक्रवार व शनिवार को तेंदूखेड़ा एसडीओपी पूरे क्षेत्र में आरोपी व महिला की तलाश में लगे रहे। लेकिन न तो आरोपी मिला न ही लापता हुई महिला का कोई सुराग मिल सका है। मामले में बताया गया है कि रतन सिंह ठाकुर निवासी पिपरिया हिंडोरिया तहसील हटा किसी हत्या के मामले में जेल में बंद था। जिसकी दोस्ती तेंदूखेड़ा थानांतर्गत पिंडरई गांव निवासी बेड़ीलाल चक्र्रवर्ती से हो गई थी। दोस्ती होने के बाद बेड़ीलाल जेल से बाहर आ गया था। लेकिन रतन सिंह जेल में ही बंद रहा। जिसने अपने मित्र से किसी अच्छे वकील से जमानत कराने के लिए कहा था। इस बीच बेड़ीलाल ने जाकर रतन की पत्नी से संपर्क किया। उसके बाद जमानत का लालच देकर वह महिला को हाई कोर्ट किसी वकील से मिलवाने ले गया था। जिसके साथ महिला के पिता भी थे। महिला के पिता एक पेड़ के नीचे बैठे थे इसी बीच आरोपी बेड़ी प्रसाद महिला को लेकर फरार हो गया था। हाईकोर्ट के बाहर से महिला को भगाकर ले जाने वाले मामले में हाईकोर्ट के आदेश पर एसडीओपी बीपी समाधिया मामले की जांच में जुटे हैं। इस मामले में सायबर सेल के सहयोग से आरोपी की तलाश करने का प्रयास किया जा रहा है। शुक्रवार व शनिवार को पुलिस ने आरोपी के ग्राम पिंडरई पांजी में जाकर घर में दबिश दी। वहां आरोपी नहीं मिला और महिला का भी पता नहीं चल सका। बताया है कि बेड़ीलाल ने १९ जून २०१८ को हाईकोर्ट के बाहर से महिला को अपने साथ लेकर फरार हो गया था। जिसकी रिपोर्ट जबलपुर में महिला के पिता ने सिविल लाइन थाना में दर्ज कराई थी। २२ जून को रिपोर्ट दर्ज कराए जाने के बाद अभी तक महिला नहीं मिल सकी है।

तलाश जारी है-
महिला के पिता ने अपनी बेटी जानकी के नहीं मिलने पर उसे तलाशने हाई कोई में अपील की थी। जिसमें मामले की जांच के लिए एसडीओपी को जांच अधिकारी नियुक्त किया है। इस मामले में बीपी समाधिया का कहना है कि हाई कोर्ट के निर्देश के पालन में आरोपी की तलाश में जुटे हैं। उन्होंने जबलपुर व तेंदूखेड़ा के साथ हटा में आरोपी की सघन तलाशी की है। लेकिन न तो महिला का पता चल सका न ही आरोपी का पता चल पा रहा है। हालांकि उन्होंने जल्द ही आरोपी तक पहुंचने की बात कही है।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned