लापरवाह टीचरों को सुधारने इस अफसर ने अपनाए ये नुस्खे

बीएसी की रिपोर्ट में हकीकत आई सामने

By: pushpendra tiwari

Published: 16 May 2018, 12:58 PM IST

दमोह/ तेंदूखेड़ा. तहसील क्षेत्र में संचालित आधा सैकड़ा सरकारी स्कूलों में कार्यरत शिक्षकों की लापरवाही व स्कूल भोजन वितरण की जिम्मेदारी निभा रहे समूह संचालकों की मनमानी की वजह से मध्यान्ह भोजन व्यवस्था पूरी तरह से बंद है, जिसकी वजह से स्कूल क्षेत्र के बच्चों को मध्यान्ह भोजन व्यवस्था वंचित रहना पड़ रहा है। बताया गया है कि तहसील के ५० स्कूलों में मध्यान्ह भोजन व्यवस्था बंद होने की हकीकत तब सामने आई है, एसडीएम के निर्देश पर बीआरसी, बीएसी व अन्य शिक्षा विभाग के अधिकारियों द्वारा स्कूलों का भ्रमण कर जांच की गई। बताया गया है कि बीएसी स्वदेश नेमा द्वारा एसडीएम बृृजेंद्र रावत के समक्ष निरीक्षण रिपोर्ट प्रस्तुत की गई है जिसमें उल्लेख है कि तहसील क्षेत्र में २०३ प्राथमिक स्कूल व ९० माध्यमिक स्कूल कुल २९३ स्कूल हैं जिनमें से २४३ में मध्यान्ह भोजन का वितरण हो रहा है व ५० स्कूलों में मध्यान्ह भोजन व्यवस्था बंद है।


संबंधितों को नोटिस जारी


एसडीएम बृजेंद्र रावत के समक्ष बीएसी द्वारा प्रस्तुत की गई इस रिपोर्ट के बाद जिन स्कूलों में मध्यान्ह भोजन व्यवस्था बंद है उन स्कूलों के जिम्मेदार शिक्षकों व भोजन व्यवस्था की जिम्मेदारी का निर्वहन करने वाले समूह संचालकों के खिलाफ कार्रवाई के तौर नोटिस जारी किए गए हैं। बताया गया है कि यह नोटिस एसडीएम कार्यालय के मार्फत जारी हुए हैं।


जांच में यह हकीकत आई सामने


तहसील क्षेत्र के शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय तेंदूखेड़ा संकुल अंतर्गत १२ माध्यमिक स्कूल, २६ प्राथमिक स्कूल संचालित हैं, इनमें से ०२ स्कूल में मध्यान्ह भोजन संचालित नहीं हो रहा है। इसी तरह शासकीय कन्या उच्चतर मा.वि कन्या संकुल तेंदूखेड़ा अंतर्गत ११ माध्यमिक १९ प्राथमिक स्कूल हैं, जिनमें से ०८ स्कूलों में मध्यान्ह भोजन नहीं बांटा जा रहा है। वहीं सेलवाड़ा संकुल अंतर्गत १० माध्यमिक व २२ प्राथमिक स्कूल हैं जिनमें से १३ स्कूलों में भोजन वितरण बंद है। तेजगढ़ संकुल अंतर्गत माध्यमिक ११ स्कूल व प्राथमिक २८ स्कूल हैं जिनमें से ०८ में मध्यान्ह भोजन बंद है। सर्रा संकुल अंतर्गत १२ माध्यमिक व २६ प्राथमिक जिनमें से १० में भोजन वितरण बंद है। तारादेही संकुल अंतर्गत १० माध्यमिक व ३० प्राथमिक स्कूल हैं, इनमें से ०४ स्कूलों में भोजन व्यवस्था बंद है। वहीं झलौन संकुल अंतर्गत १२ माध्यमिक व २८ प्राथमिक स्कूल हैं जिनमें से ०२ में मध्यान्ह भोजन व्यवस्था बंद है। इसी तरह पुरा संकुल अंतर्गत १२ माध्यमिक स्कूल हैं व २४ प्राथमिक हैं जिनमें से ०१ स्कूल में भोजन वितरण नहीं हो रहा है।

वर्जन


स्कूलों में भोजन व्यवस्था प्रभावित है इसकी शिकायतें प्राप्त हो रहीं थीं, जिसके चलते शिक्षा विभाग के अधिकारियों को स्कूलों का निरीक्षण करने व रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए गए थे, परिणामस्वरूप जिन स्कूलों में भोजन वितरण नहीं हो रहा है वहां पर पदस्थ शिक्षकों व समूह संचालकों को कार्रवाई नोटिस भेजा गया है।
बृजेंद्र रावत, एसडीएम तेंदूखेड़ा

 

pushpendra tiwari Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned