VIDEO NEWS:डीआरएम ने किया स्टेशन का निरीक्षण प्लेटफार्म से लेकर बालउद्यान तक पहुंचे पैदल दो घंटे तक किया सघन निरीक्षण

rakesh Palandi

Updated: 14 Jul 2019, 12:02:03 AM (IST)

Damoh, Damoh, Madhya Pradesh, India

दमोह. स्थानीय रेलवे स्टेशन पर पश्चिम मध्य रेलवे जबलपुर के जीएम अजय विजयवर्गीय व डीआरएम मनोज सिंह का आगमन हुआ। जिन्होंने सघन निरीक्षण कर लापरवाह अधिकारियों को जमकर फटकार लगाई। लेकिन उन्होंने दमोह को कई सौगातें दीं। जीएम निरीक्षण करने के बाद दिल्ली के लिए सुपर एक्सप्रेस ट्रेन के सलून से रवाना हुए। लेकिन डीआरएम दमोह स्टेशन पर ही रुके रहे। जिन्होंने पूरे क्षेत्र का सघन निरीक्षण किया।
बताया गया है कि जीएम व डीआरएम का कुछ मिनटों के लिए विंडो निरीक्षण होना था। लेकिन दमोह आने के बाद जीएम कुछ देर रुककर चले गए। और डीआरएम ने प्लेट फार्म एक से तीन तक लगातार निरीक्षण किया और वह बाल उद्यान भी पहुंचे।
डीआरएम मनोज सिंह ने अन्य अधिकारियों के साथ सबसे पहले उतरते ही प्लेटफार्म नंबर दो की ऊंचाई बढाने के निर्देश दिए। वहां पर बैठने के लिए यात्रियों को चेयर बढ़ाने
वेटिंगरूम व टॉयलेट में सफाई रखने के साथ वहां पर्याप्त रोशनी बढ़ाने के निर्देश दिए।
चार में से बंद थे दो एसी-
डीआरएम ने जब आरक्षण वाले वेटिंगरूम का निरीक्षण किया तो वहां पर चार में से दो एसी बंद थे। साथ ही पर्याप्त रोशनी नहीं होने से संबंधित अधिकारियों को जमकर फटकार लगाई। इसके बाद उन्होंने सभी एसी चालू रखने निर्देशित किया।
जलसा में बढ़ाई जाएगी रोशनी -
एक साल पूर्व जलसा के समीप दो साल की मासूम के साथ बलात्कार होने की घटना के बाद वहां अभी तक रोशनी का इंतजाम नहीं किया जा सका था। जिससे वहां दोबारा अंधेरे का लाभ लेकर कोई दूसरी वारदात न हो सके। इसलिए वहां पर रोशनी के पर्याप्त इंतजाम करने के निर्देश दिए।
बढ़ाए जाएंगे टिकट काउंटर-
डीआरएम ने टिकट काउंटर की कमी को देखते हुए वहां पर यात्रियों की परेशानी से अवगत होकर टिकट काउंटर बढ़ाए जाने के निर्देश दिए। जिससे यात्रियों को टिकट लेने के दौरान होने वाली परेशानी से निजात मिल सके। इसके अलावा उन्होंने रेलवे कॉलोनी में लाइट बढ़ाते रोशनी का पर्याप्त इंतजाम करने निर्देशित किया।
बाल उद्यान तरीके से बनेगा बालउद्यान -
रेलवे के प्लेटफार्म नंबर एक के समीप स्थित बाल उद्यान को सुसज्जित करते हुए उसमें बेहतर झूले लगाने, बागवनी करने के साथ उसेें आधुनिकी करण के साथ बेहतर सुसज्जित करने के निर्देश दिए। इसके अलावा रेलवे कॉलोनी में वॉटर हॉर्वेस्टिंग सिस्टम जो डेमेज हो गया है, उसे फिर से लगाए जाने के निर्देश दिए।
जल्द होगा जीआरपी पुलिस थाना का निर्माण-
डीआरएम ने लगातार होने वाली घटनाओं को लेकर जल्द ही दमोह में जीआरपी पुलिस थाना स्थापित करने का आश्वासन दिया। उन्होंने कहा कि जल्द ही वरिष्ठ अधिकारियों से चर्चा करने के बाद समस्या का समाधान किया जाएगा। जिससे लोगों को दमोह में होने वाली घटना में एफआइआर कराने सागर तक न जाना पड़े।
बउदलेगा ऑटो रिक्शा का मार्ग-
रेलवे स्टेशन के ठीक सामने खड़े होने वाले ऑटो रिक्शा के खड़े होने पर पूरी तरह से रोक लगाने निर्देशित किया। डीआरएम मनोज सिंह ने कहा कि अभी जो रेलवे स्टेशन के ठीक सामने तक ऑटो रिक्शा आते हैं अब उन्हें यहां तक न लाते हुए मार्ग परिवर्तित कर सीधे वाहन स्टैंड की ओर ले जाया जाएगा। जिससे गेट के सामने जाम की स्थिति निर्मित न हो। इसके अलावा वहां पर स्थित
ट्रांसफार्मर को बीच से हटाकर साइड में शिफ्ट कराने के निर्देश दिए। ्र
बंद मिलेे सीसीटीवी कैमरे -
रेलवे स्टेशन पर हमेशा की तरह सीसीटीवी बंद मिले जिससे डीआरएम काफी झल्ला गए। उन्होंने तुरंत ही अधिकारियों को फटकार लगाकर सीसीटीवी कैमरे हमेशा चालू रखने निर्देशित किया। इस दौरान स्टेशन मास्टर शतीषचंद्र अग्रवाल ने बताया कि लाइट जाने पर सीसीटीवी बंद हो जाते हैं। जिन्हें दोबारा चालू कराना पड़ता है। इसके लिए जनरेटर या फिर इनवर्टर से कनेक्ट कर चौबीसों घंटे सीसीटीवी चालू रखने के निर्देश दिए। इसके अलावा
प्लेटफार्म नंबर दो पर शौचालय की संख्या बढ़ाने के निर्देश दिए।
केंटीन खोलने के निर्देश -
प्लेटफार्म नंबर दो पर पूरे प्लेटफार्म पर टीनशेड बढ़ाने व वहां पर एक केंटीन खालने के निर्देश दिए। इसके अलावा प्लेटफार्म के बाहर सामान्य रेल यात्रियों को अलग से यात्री प्रतीक्षालय बनाने व प्रीपेड ऑटो रिक्शा व्यवस्था करने के निर्देश दिए।
रेल संघर्ष समिति ने सौंपा ज्ञापन -
जीएम व डीआरएम को रेल संघर्ष समिति से जुड़े प्रांजल चौहान सहित अन्य सदस्यों ने एक ज्ञापन सौंपा। जिन्होंने ज्ञापन में उल्लेख किया कि हजरत निजामुद्दीन दुर्ग छत्तीसगढ़ संपर्क क्रांति सुपरफास्ट एक्सप्रेस एवं जम्मूतबी दुर्ग सुपरफास्ट एक्सप्रेस ट्रेन का दमोह में स्टॉपेज दिया जाए। रेल मंत्री द्वारा पूर्व में शिक्षा एक्सप्रेस को प्रतिदिन करने की घोषणा की गई थी, जिसे जल्द ही नियमित रूप से चलाए जाने की मांग की गई। इसके अलावा दमोह भोपाल राज्यरानी एक्सप्रेस को हबीबगंज हबीबगंज होते हुए मंडीदीप तक बढ़ाए जाने की मांग की गई। प्लेटफार्म नंबर एक की ऊंचाई बड़ाने, जीआरपी थाना खोले जाने व स्टाफ बढ़ाए जाने की मांग की गई। जबलपुर इंदौर इंटरसिटी भोपाल हावड़ा एक्सप्रेस ट्रेन पिछले डेढ़ साल से बंद है जिसे नियमित रूप से चलाए जाने, दमोह से नागपुर के लिए एवं दक्षिण भारत के लिए नियमित चलने वाली कोई भी ट्रेन नहीं होने के कारण इस मार्ग पर ट्रेन चलाए जाने व जबलपुर अटारी एक्सप्रेस जो सप्ताह में बीना कटनी होकर 2 दिन दमोह से निकलती है, रूट से सप्ताह में 1 दिन कर दिया गया था, जिसे पुन: 2 दिन चलाए जाने की मांग की गई। इसके अलावा प्लेटफार्म नंबर एक पर नया फ ुट ओवर ब्रिज बनवाने एवं जबलपुर दमोह खजुराहो वाया हटा कुंडलपुर की दोनों रेल लाइनों के लिए बजट स्वीकृत करवाने की मांग की गई।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned