आखिर ऐसा क्या हुआ जो जनसुनवाई में आया आवेदक हुआ लहूलुहान

आखिर ऐसा क्या हुआ जो जनसुनवाई में आया आवेदक हुआ लहूलुहान
जनसुनवाई में प्रकाश राय

Puspendra Tiwari | Updated: 18 Sep 2019, 05:04:01 AM (IST) Damoh, Damoh, Madhya Pradesh, India

लहूलुहान आवेदक की पीड़ा का विधायक ने उड़ाया मजाक, एडीएम से कहा ये है सबसे बड़ा नौटंकीबाज, पागल

दमोह. कलेक्टर जनसुनवाई में इस मंगलवार को उस वक्त मौजूद अधिकारी व विभिन्न स्थानों से आए आवेदक सकते में पड़ गए जब जिले के फुटेरा कलां गांव से आए एक आवेदक ने आत्मघाती कदम उठाते हुए खुद को घायल कर लहूलुहान कर लिया। जिला अस्पताल में उपचाररत आवेदक घटना के लिए विधायक रामबाई को जिम्मेदार ठहरा रहा है। घायल का आरोप है कि विधायक ने सुनवाई के दौरान मुझे पागल, नौटंकीबाज कहा इसलिए मैंने खुद को घायल कर यह बताना चाहा है कि मैं पागल नहीं हूं। इधर आवेदक द्वारा उठाए गए इस आत्मघाती कदम के बाद अपर कलेक्टर आनंद कोपरिहा ने उसकी समस्या सुनी और पुलिस व एंबूलेंस बुलाकर आवेदक को जिला अस्पताल भिजवाया। बताया गया है कि आवेदक प्रकाश राय जिन समस्याओं को लेकर जनसुनवाई में पहुंचा था उन समस्याओं का निराकरण पूर्व जनसुनवाई में आवेदन प्रस्तुत किए जाने के बाद भी नहीं किया गया था। वहीं पिछली जनसुनवाई में प्रकाश राय ने चेतावनी दी थी कि निराकरण नहीं होता है तो वह कलेक्ट्रेट में आकर आत्महत्या करेगा।
उपचाररत प्रकाश राय ने बताया कि ग्राम के लोग दूषित पानी पीने लिए मजबूर हैं। गांव के करीब २५ हैंडपंप खराब हो चुके हैं। लेकिन शिकायत करने के बाद भी सुनवाई नहीं की गई। इसके अलावा ग्राम पंचायत में पुलिया निर्माण कार्य, सीसी रोड निर्माण कार्य में पंचायत सरपंच, सचिव सुधीर सिंह, सब इंजीनियर निधि गुप्ता, सहायक उपयंत्री आरके विश्वकर्मा द्वारा लाखों रुपए का भ्रष्टाचार किया गया है। जिसकी शिकायत कर जांच की मांग की गई थी। लेकिन प्रस्तुत किए गए आवेदनों पर सुनवाई नहीं हुई। इस मंगलवार को गांव के लोगों के साथ पुन: समस्याओं के निराकरण कराए जाने के लिए आया था। लेकिन कलेक्ट्रेट में मौजूद विधायक रामबाई मुझे नोटंकीबाज, पागल कह रहीं थीं।
घटना के संबंध में अपर कलेक्टर आनंद कोपरिहा का कहना है कि विधायक कलेक्ट्रेट में पहले से मौजूद थीं। जब वह प्रथम तल से उतरकर नीचे गेट पर पहुंची तो उन्होंने आवेदक को चोटिल अवस्था में देखा और मामला उनकी विधानसभा क्षेत्र का था इसलिए उन्होंने अपनी बात रखी। लेकिन आवेदक यह झूठ बोल रहा है कि विधायक द्वारा पागल कहा गया इसलिए उसने खुद को पत्थर मारा है। आवेदक से आवेदन लेकर जब सुनवाई की जा रही थी, तभी उसने मोबाइल सिर पर मार लिया था।
इस घटना पर विधायक रामबाई का कहना है कि प्रकाश राय पागल, फर्जी है। झूठी शिकायतें कर सरपंच को ब्लैकमेल कर रहा है और सरपंच से पांच लाख रुपए की मांग की है। सरपंच द्वारा इसकी शिकायत भी मुझसे की गई है। बारिश के इन दिनों में सभी के हैंडपंपों से गंदा पानी आ रहा है यह कोई बड़ी बात नहीं है। मैंने अपर कलेक्टर से कहा है कि इसके विरुद्ध कार्रवाई की जाए। प्रकाश राय ने खुद को पत्थर मारा है किसी दूसरे ने मारपीट नहीं की है इसलिए कार्रवाई भी इसके ही विरुद्ध होगी।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned