24 जून को जानी थी बारात, निकल गई अर्थी

24 जून को जानी थी बारात, निकल गई अर्थी

Rajesh Kumar Pandey | Publish: Jun, 14 2018 11:28:38 AM (IST) Damoh, Madhya Pradesh, India

रेलवे ट्रैक पर मौत के 18 घंटे बाद हुई शिनाख्त

दमोह. पथरिया थाना के नौरू फाटक के पास रेलवे ट्रैक पर युवक का शव मिलने के बाद उसकी शिनाख्त न होने पर बुधवार की शाम 4 बजे पुलिस ने उसे दफना दिया था। शाम 6 बजे के बाद उसकी शिनाख्त हुई तो पता चला इस युवक की लगुन 10 जून को आई थी और बारात 24 जून को जानी थी।


बुधवार की सुबह ग्रामीणों द्वारा रेलवे ट्रैक के पास पथरिया पुलिस शव की सूचना दी गई थी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव का पंचनामा बनाया है। पुलिस ने घटना मंगलवार रात 9 बजे के करीब की बताई है। मृतक की पहचान शाम तक नहीं होने पर पथरिया पुलिस ने अज्ञात शव मानकर दफना दिया था। इसके बाद पुलिस ने सोशल मीडिया पर मृतक की फोटो वायरल की थी। जिसके बाद युवक की शिनाख्त पथरिया थाने के छिरका बकैनी निवासी बिहारी पटेल के पुत्र विजय पटेल के रूप में की गई है।


इस मामले में छिरका बकैनी के सरपंच राजेंद्र सिंह का कहना है कि मृतक विजय का विवाह हो रहा है, इसकी लगुन हाल ही में 10 जून को आई थी। जिसकी बारात 24 जून को जानी थी। इससे पहले इसकी मौत होने की खबर आई थी। सरपंच के अनुसार 22 वर्षीय विजय होनहार छात्र था। पढ़ाई में अव्वल आता था। अब उसके साथ कौन सी अनहोनी हुई है, इसकी जानकारी नहीं है। परिजनों के अनुसार शाम 7 बजे तक वह छिरका बकैनी में था। जिसके बाद उसका पता नहीं चला। परिजन खोजते रहे, लेकिन पता नहीं चला जब शाम को सोशल मीडिया पर फोटो वायरल हुई तब इसकी जानकारी लगी। गुरुवार की सुबह पुलिस द्वारा दफनाए गए शव को बाहर निकाला जाएगा।

मामले में पुलिस का कहना है कि फिलहाल मर्ग कायम कर जांच की जा रही है। मौत की वजह स्पष्ट होते ही कार्रवाई आगे बढ़ाई जाएगी। जिस दिन लगुन हुई है संभवत: उसी दिन के दूसरे दिन यह वारदात हुई है। जो कैसे हुई यहां पता लगाया जा रहा है। पहली नजर में मामला आत्महत्या का प्रतीत हो रहा है।

 

 

Ad Block is Banned