दमोह. जय-जय संतोषी माता जय मां की आरती के साथ 10 अक्टूबर से 17 अक्टूबर तक चलने वाले गरबा उत्सव के दूसरे वर्ष की शुरुआत हुई। डांडिया की टंकार से मां की आराधना करने मातृ शक्ति ने गरबा नृत्य में अपनी भक्ति की शक्ति लगाई तो एक नया रंग उभर आया।
दृश्य था, नवशक्ति गरबा उत्सव समिति व पत्रिका के मीडिया पार्टनर शिप में आयोजित गरबा उत्सव का। शहर के एमएलबी स्कूल परिसर में घट की स्थापना के साथ दीप प्रज्वलन किया गया। जिसमें वित्त मंत्री जयंत मलैया, सांसद प्रहलाद पटैल, पथरिया विधायक लखन पटैल, नपा अध्यक्ष मालती असाटी, नपा उपाध्यक्ष नरेंद्र सिंह चंदेल व जिला अधिवक्ता संघ अध्यक्ष पंकज खरे, आप संयोजक सुनील राय, एमएलबी पालक संघ अध्यक्ष हरि मिश्रा, हरीश नागदेव लंकेश, भरत यादव, मोंटी रैकवार, संस्था के संयोजक प्रभात सिंह राजपूत, अध्यक्ष मंजू सिंह राजपूत, अमर सिंह राजपूत, प्रदीप राजपूत, एलएन वैष्णव व हंसा वैष्णव की मौजूदगी रही। इसके बाद संतोषी माता की आरती की गई। गरबा उत्सव में आरती के बाद आकर्षक वेशभूषा में प्रतिभागी जिसमें राजस्थानी, गुजराती शैली के वस्त्रों में सजी हुई डांडिया लेकर जब गरबा कैंपस में उतरी तो एक अलग ही भक्ति का रंग उभर आया। पहले सिर पर कलश लेकर इसके बाद हाथें में दीपक रखकर मां की आरती की गई। इसके बाद दो ताली गरबा शुरू हुआ। गुजराती शैली के मां को समर्पित इस गीत पर प्रतिभागियों ने जोश के साथ पहली प्रस्तुति दी।
कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सांसद प्रहलाद पटैल ने समिति व पत्रिका को शुभकामनाएं दी कि मां की आराधना के लिए एक मंच दिया है, जिसमें बड़ी संख्या में मातृशक्ति शामिल हो रही है। नपा अध्यक्ष मालती असाटी ने कहा कि पहले बड़े शहरों में होने वाले गरबा को टीवी के माध्यम से देखते थे लेकिन पत्रिका ने दमोह मेें उसी स्तर का गरबा शुरु कराया है। अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष पंकज खरे ने भी शहर के आकर्षक गरबा उत्सव की सराहना करते हुए आयोजकों को शुभकामनाएं दी हैं।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned