हल्की बारिश में दो करोड़ की सड़क धंसी, पुलिया बही

हल्की बारिश में दो करोड़ की सड़क धंसी, पुलिया बही

Rajesh Kumar Pandey | Publish: Jul, 14 2018 12:08:30 PM (IST) Damoh, Madhya Pradesh, India

लाखों की लागत का अतिरिक्त कक्ष धराशायी

दमोह/बनवार. जबेरा क्षेत्र में गुरुवार को हुई पहली हल्की बारिश ने दो करोड़ की लागत से बनी सड़क धंसा दी है, वहीं पुलिया भी बहाकर ले गई। इसके साथ ही मझगुवां मानगढ़ गांव में स्कूल के लिए बना 10 अतिरिक्त कक्ष बारिश से धराशायी हो गया है। जिसका लाभ छात्रों के लिए एक दिन भी नहीं मिल पाया है।
रीछई से सलैया बगलवारा तक दो किमी लंबी सड़क का निर्माण दो करोड़ रुपए की लागत से किया गया था। जिसमें पुलिया व रिपटा भी बनाए गए थे। गुरुवार को बनवार क्षेत्र में हुई पहली हल्की बारिश भी नहीं झेल पाई है। इस बारिश से जहां सड़क धंस गई है, वहीं इस 6 पुलिया और एक रिपटा की सीमेंट व गिट्टी पानी में बह गई हैं। ग्रामीणों ने इस सड़क निर्माण के दौरान ही घटिया निर्माण की शिकायतें दर्ज कराई थीं। सड़क निर्माण व पुलिया निर्माण कार्य पूरा हुए दो माह भी नहीं बीते और हल्की बारिश ने घटिया निर्माण की पोल खोलकर रख दी है।
प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क के एसडीओ एमके रावत का कहना है कि मैं अभी एक माह पूर्व ही आया हूं। यह निर्माण कैसे हुआ जानकारी तो नहीं पर घटिया तरीके से सड़क की पुलिया रपटा बनाया गया है। हल्की बारिश में यह स्तिथि बनी है, तो जांच कराते हंै।
लाखों की लागत का अतिरिक्त कक्ष धराशायी
सर्व शिक्षा अभियान के तहत मझगुवां मानगढ़ में अतिरिक्त कक्ष बनाया गया था। जिसमें बच्चे एक दिन भी नहीं बैठ पाए। गुरुवार की हल्की बारिश से पूरा कक्ष धराशायी हो गया है। बताया जात है कि वर्ष 2007-2008 में अतिरिक्त कक्ष बनाया गया था, लेकिन इसमें एक दिन भी कक्षाएं नहीं लगाई गईं। बताया जाता है कि अतिरिक्त कक्ष का घटिया निर्माण होने व छतों में दरारें दिखने से इसमें कक्षाएं नहीं लगाईं गईं। जिससे निर्माणकाल से लगातार जर्जर होते वह हल्की बारिश में धराशायी हो गया। बीआरसी जबेरा आईएस धुर्वे का कहना है इन भवनों के रख रखाव की जबावदेही ग्राम पंचायतों की है। स्कूल बंद होने की स्थिति में है और स्कूल भवन अनुपयोगी साबित हो रहे हैं।

Ad Block is Banned