scriptReverse water enters the school and college from the damaged drain | चार चौराहों से घिरा वार्ड एमपीआरडीसी की नाली से हलाकान | Patrika News

चार चौराहों से घिरा वार्ड एमपीआरडीसी की नाली से हलाकान

क्षतिग्रस्त नाली से रिवर्स पानी घुसता है स्कूल व कॉलेज में

दमोह

Published: September 22, 2022 05:49:42 pm

दमोह. सिविल वार्ड नं. ८ शहर के प्रमुख चार चौराहों के बीच में स्थित वार्ड है। इस वार्ड से हाइवे निकला होने से रोड के साथ ही नाली का निर्माण एमपीआरडीसी ने किया था, जो घटिया व छोटी नाली बनाए जाने के कारण इस वार्ड की प्रमुख समस्या बन गई है। हल्की बारिश में भी एमपीआरडीसी की नाली का पानी रिवर्स होकर स्कूल व कॉलेज में घुसने लगता है।
सिविल वार्ड नं. 8 तीन गुल्ली चौराहा से बैंक चौराहा, बस स्टैंड चौराहा, स्टेशन चौराहा होते हुए तीन गुल्ली पर समाप्त हो जाता है। इस तरह यह वार्ड शहर के अति व्यस्तम चार चौराहों से घिरा हुआ वार्ड है, जिसमें बड़ा हिस्सा टंडन बगीचा व डिग्री कॉलेज के पीछे से लेकर पाठक श्री राधाकृष्ण मंदिर तक आता है। इस वार्ड के चारों ओर भारी यातायात का आवागमन होता है। यहां की मुख्य सड़कों का निर्माण एमपीआरडीसी द्वारा किया गया। सड़कों के साथ ही यहां नाली निर्माण में व्यापक पैमाने पर तकनीकी खामियां बरती गईं थीं, जिससे सीधा फायदा तत्कालीन एमपीआरडीसी के ठेकेदार को पहुंचाया था, इस तरह भ्रष्ट मानसिकता के चलते ठेकेदार का फायदा तो करा दिया था, लेकिन सिविल वार्ड 8 के रहवासी व यहां स्थित स्कूल व कॉलेज के लिए सालों की समस्या बन कर रह गई। यह समस्या है बारिश होने पर इस वार्ड में जल भराव की यह स्थिति है कि बारिश रुकने के बाद मुख्य नाली का पानी छोटी नालियों से रिवर्स होकर स्कूल प्रांगण, घरों व खाली मैदान में भरने लगता है। इससे कॉलेज का मैदान में प्रभावित होता है, जिससे खिलाडिय़ों को खेलने के लिए परेशानी का सामना करना पड़ता है।
गलियों में सफाई की समस्या
इस वार्ड में संकरी नालियां हैं, जिन पर लोगों द्वारा चबूतरे या प्लेटफार्म के पक्के निर्माण कर लिए हैं, जिससे नाली सफाई नहीं हो पाती है, जहां ओपन नाली मिलती है, वहां कचरा हटा दिया जाता है, जिससे कई जगह अतिक्रमण के कारण नालियां चोक होने से पानी भरने की समस्या होती है।
वार्ड पार्षद अमर सिंह राजपूत का कहना है कि 5 नाली निर्माण व 5 सीसी रोड निर्माण के साथ एक पेवर ब्लॉक रोड निर्माण के प्रस्ताव डाले हैं। वार्ड का मुख्य एजेंडा एमपीआरडीसी का नाला और छोटी नालियां हैं। जिसमें चैंबर सिस्टम का प्रस्ताव डाला जा रहा है। ओपन नालियां परेशानी का कारण बन रही हैं। पिछले दिनों उन्होंने अग्रवाल स्कूल के पास एमपीआरडीसी की नाली सफाई कराई थी, इसके बाद 20 मिनट का पानी गिरा तो देखा मुख्य नाला का पानी स्कूल की छोटी नाली से रिवर्स होने लगा और देखते ही मैदान में पानी भर गया था, जो बड़ी समस्या है, एमपीआरडीसी के कारण उनका पूरा वार्ड ध्वस्त हो जाता है।
Reverse water enters the school and college from the damaged drain
Reverse water enters the school and college from the damaged drain

सबसे लोकप्रिय

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather Update: राजस्थान में बारिश को लेकर मौसम विभाग का आया लेटेस्ट अपडेट, पढ़ें खबरTata Blackbird मचाएगी बाजार में धूम! एडवांस फीचर्स के चलते Creta को मिलेगी बड़ी टक्करजयपुर के करीब गांव में सात दिन से सो भी नहीं पा रहे ग्रामीण, रात भर जागकर दे रहे पहरासातवीं के छात्रों ने चिट्ठी में लिखा अपना दुःख, प्रिंसिपल से कहा लड़कियां class में करती हैं ऐसी हरकतेंनए रंग में पेश हुई Maruti की ये 28Km माइलेज़ देने वाली SUV, अगले महीने भारत में होगी लॉन्चGanesh Chaturthi 2022: गणेश चतुर्थी पर गणपति जी की मूर्ति स्थापना का सबसे शुभ मुहूर्त यहां देखेंJaipur में सनकी आशिक ने कर दी बड़ी वारदात, लड़की थाने पहुंची और सुनाई हैरान करने वाली कहानीOptical Illusion: उल्लुओं के बीच में छुपी है एक बिल्ली, आपकी नजर है तेज तो 20 सेकंड में ढूंढकर दिखाये

बड़ी खबरें

माकन की विधायकों ने की फजीहत, जयपुर में किंगमेकर बने गहलोत, दिल्ली दरबार नाराजचीन को जबर्दस्त झटका: लॉन्च के 3 सप्ताह के भीतर भारत में ही शुरू हुई iPhone 14 की मैन्यूफैक्चरिंग, यहीं से होगा निर्यातप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जापान के पूर्व PM शिंजो आबे के अंतिम संस्‍कार में होंगे शामिलMaharashtra: बीजेपी विधायक राम कदम ने आदित्य ठाकरे पर बोला बड़ा हमला, लोगों को गुमराह करने का लगाया आरोप; जानें मामलाक्रिप्टो का तिलिस्म: डेढ़ साल में 46 हजार लोगों के साथ हुई धोखाधड़ी, यूएन की रिपोर्ट में खुलासापटियाला जेल में मौन व्रत पर गए सिद्धू, पत्नि नवजोत की अपील- '5 अक्टूबर तक न जाएं मिलने'NASA DART Mission: 27 सितंबर को सुबह 4.44 बजे होगी धरतीवासियों की परीक्षा, एस्टेरॉयड्स की टक्कर से बचेंगे या नहीं, यहाँ देखें Liveगुलाम नबी आजाद ने की नई पार्टी की घोषणा, 'डेमोक्रेटिक आजाद पार्टी' रखा नाम
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.