गला घोंटकर महिला रसोइया की हत्या कर आरोपी फरार, शव खीचकर दूसरी जगह ले जाना चाहता था आरोपी

गला घोंटकर महिला रसोइया की हत्या कर आरोपी फरार, शव खीचकर दूसरी जगह ले जाना चाहता था आरोपी

Laxmi Kant Tiwari | Publish: Sep, 04 2018 11:54:07 AM (IST) Damoh, Madhya Pradesh, India

घटना स्थल पहुंचे एसपी

तेंदूखेड़ा/सिंग्रामपुर. जिले के जबेरा थानांतर्गत सिंग्रामपुर चौकी क्षेत्र में स्थित एक छात्रावास में खाना बनाने वाली महिला रसाइया का शव बाउंड्री के भीतर पड़ा हुआ मिला। महिला की हालत देखकर उसकी हत्या किए जाने का संदेह जताया गया। एसडीओपी ने मौके पर पहुंचकर जांच शुरू कर दी है। घटना की सूचना पर पलिस अधीक्षक विवेक अग्रवाल, एफएसएल स्पेशलिस्ट डॉ. किरण सिंह, जबेरा थाना प्रभारी आरके दांगी, चौकी प्रभारी नीतू खटीक सहित अन्य अधिकारियों ने भी मौके पर जांच की। मामले को गंभीरता से लेते हुए महिला का शव परीक्षण दमोह में एक महिला व एक पुरुष चिकित्सक से कराया गया।
मामले में एसडीओपी बीपी समाधिया ने बताया है कि छात्रावास में कार्य करने वाली महिला रामरति बाई पति जाहर सिंह लोधी (38) निवासी हलगज बिलथरा थाना हिंडोरिया, सिंगपुर छात्रावास में खाना बनाने का काम करती थी। रविवार को वह छात्रावास में अकेली थी छात्रावास में न तो कोई वार्डन उपस्थित थी, न ही एक भी छात्र। रात में ऐसा संदेह है कि कोई छात्रावास गया होगा उसने छात्रावास का गेट भी खुलवाया। वह व्यक्ति यहां रुका भी किसी बात को लेकर इनमें विवाद हुआ। जिसके चलते महिला की साड़ी का फंदा गले में बनाकर बेरहमी से गला घोंटकर हत्या कर की गई है। उस अज्ञात व्यक्ति ने महिला को बाहर ले जाकर उसे कहीं दूसरी जगह फेकने की कोशिश की है। हालांकि वह गेट के पास मैदान तक ही ले जा सका। उसके बाद मैदान में छोड़कर भाग गया। संदेह के आधार पर दो व्यक्तियों से पूछताछ की जा रही है
मृतक महिला का एक है बेटा-
मृतक महिला का एक बेटा भी ह, जो कि बिलतरा में रहता है। मृतक महिला का मायका भी बिलतरा में है। और वह वहां आती जाती थी। मृतका का बेटा बांदकपुर में नौकरी करता था।
7 साल से बना रही थी खाना-
एसडीओपी समाधिया ने बताया कि खाना बनाने का काम करने के लिए महिला पिछले ७-८ साल से लगातार कार्य कर रही थी। कभी-कभी बिलतरा में बेटे से मिलने के लिए आना-जाना भी करती थी। महिला अपने पति के साथ न रहते हुए छात्रावास में ही रहती थी। रविवार को भी वह अकेली रही। मृतिका का पति बांदकपुर में रहकर कार्य करता है।
मर्ग कायम किया है-
एसडीओपी बीपी समाधिया का कहना है कि अभी प्रथम दृष्टया मर्ग कायम कर जांच में लिया है। उसके बाद दमोह से पोस्टमार्टम रिपोर्ट प्राप्त होने पर आने के बाद हत्या का केस दर्ज हो किया जाएगा।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned