कागजी कार्रवाई में सिमट कर रहा गया फुटेरा तालाब का सीमांकन

कागजी कार्रवाई में सिमट कर रहा गया फुटेरा तालाब का सीमांकन

By: Sanket Shrivastava

Published: 29 Jun 2020, 11:58 PM IST

दमोह. कुछ दिनों पहले ही कलेक्टर के निर्देश पर प्रशासन ने फुटेरा तालाब का नपाई कार्य पूरा किया है। फुटेरा तालाब में बड़ी संख्या में अवैध कब्जे हैं। जिन्हें हटाने प्रशासन द्वारा ने ठोस कार्रवाई नहीं की।
कलेक्टर के निर्देश पर वरिष्ठ अधिकारियों की मौजूदगी में फुटेरा तालाब की नपाई होने के बाद अवैध कब्जे हटाने का प्रयास शुरू हो रहा था। लेकिन बारिश शुरू होने से अब बारिश का बहाना हो गया है। प्रशासन द्वारा कब्जे हटाने कार्रवाई शुरू हो चुकी थी।
लेकिन बारिश की वजह से तालाब के अवैध अतिक्रमणों को हटाने की कार्रवाई रोक दी गई है। जिससे अब बारिश के बाद ही कब्जे हटाने की कार्रवाई शुरू होगी। राजस्व अमले की अभी तक तालाब से कब्जे हटाने की कार्रवाई महज कागजी औपचारिकता बनकर रह गई। अब बारिश के बाद अवैध अतिक्रमण हटाया जाएगा या नहीं इस पर भी संशय बना हुआ है। प्रशासन की एक बार कोई कार्रवाई बंद होती है तो कई साल लग जाते हैं उसे पूरा करने में। ऐसे में प्रशासनिक कार्रवाइयों को लेकर लोग सवाल उठा रहे हैं।
तालाब की जिस वक्त नपाई हो रही थी, उस वक्त भी लोगों ने नपाई कार्य को लेकर सवाल उठे थे। लोगों को आशंका है कि तालाब की जमीन से कब्जों को हटाने की कार्रवाई जानबूझकर लटकाई जा रही है। ताकि अवैध कब्जे कायम रहे।

Sanket Shrivastava
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned