MP Election poll 2018 : आदिवासी वोट निभाएगा निर्णायक भूमिका

MP Election poll 2018 : आदिवासी वोट निभाएगा निर्णायक भूमिका

Rajesh Kumar Pandey | Publish: Sep, 06 2018 11:41:37 AM (IST) Damoh, Madhya Pradesh, India

कांग्रेस-भाजपा से लोधी समाज के प्रत्याशी फिर हो सकते हैं आमने-सामने

दमोह. जबेरा विधानसभा सीट में जीत हार में जातिय समीकरण विशेष महत्व रखने लगा है। यहां लोधी समाज व आदिवासी समाज की बाहुल्यता के चलते लोधी समाज से ही कांग्रेस और भाजपा ने प्रत्याशी मैदान में उतारे थे। इस बार के चुनाव में भी लोधी समाज के प्रत्याशी आमने-सामने मुकाबले की तैयारी कर रहे हैं।


कांग्रेस के मौजूद विधायक प्रताप सींग लोधी की टिकट लगभग तय मानी जा रही है, लेकिन आदिवासियों के बीच अपनी खास दखल रखने वाले स्व. रत्नेश सॉलोमन के पुत्र आदित्य सॉलोमन भी टिकट के प्रबल दावेदारों में हैं। इनके अलावा उपचुनाव में पराजय झेल चुकी तान्या सॉलोमन भी टिकट की चाह रख रही हैं।


भाजपा से इस बार राघवेंद्र सींग लोधी ऋषि भाजपा के प्रांतीय पदाधिकारी व शिवराज सिंह के काफी नजदीक हैं। दशरथ सिंह लोधी दस्सू भैया निकटतम प्रत्याशी रह चुके हैं। इसके अलावा पूर्व मंत्री भी रहे हैं। चंद्रभान सींग भी टिकट की दौड़ में हैं, जो जिला पंचायत अध्यक्ष, विधायक व सांसद रह चुके हैं। वहीं दबी जुबान चर्चाओं में यह भी बात सामने आ रही है कि ऐन वक्त पर सांसद प्रहलाद सींग लोधी भी जबेरा विधानसभा से मैदान में उतर सकते हैं। हालांकि इसके संकेत अभी सांसद की ओर से नहीं मिल रहे हैं, लेकिन इस तरह की जनचर्चाएं जबेरा क्षेत्र में चलने लगी हैं।


आदिवासी मतदाताओं पर फोकस
कांग्रेस, भाजपा के साथ बसपा आदिवासी मतदाताओं पर फोकस कर रही है। बसपा से इस बार डेलन सींग धुर्वे व राजा गुलाब सींग टिकट की चाह रख रहे हैं। यहां पर गौड़वाना गणतंत्र पार्टी के हरिराम सींग के कांग्रेस में शामिल हो जाने के बाद कांग्रेस भी हरिराम सींग पर दाब खेल सकती है, क्योंकि पिछले चुनावों में हरिराम अपनी उपस्थिति दर्ज करा सकते हैं। वहीं आदित्य सॉलोमन को कांग्रेस टिकट नहीं देती है तो वह आदिवासी वोट बैंक के सहारे निर्दलीय मैदान में उतर सकते हैं। जिससे आगामी विधानसभा चुनाव में आदिवासी वोट निर्णायक भूमिका निभा सकता है।


आप और भाशचेपा
जबेरा विधानसभा से आम आदमी पार्टी के विधानसभा प्रभारी बसंत राय टिकट की दौड़ में शामिल हैं, लेकिन इन्हें अभी तक प्रत्याशी घोषित नहीं किया गया है। भारतीय शक्ति चेतना पार्टी ने 2013 के पराजित प्रत्याशी आशीष शुक्ला राजू भैया को मैदान में उतारा है, जो भगवती मानव कल्याण संगठन की सदस्या संख्या के आधार पर अपनी जीत का गणित बैठाए हुए हैं।


चुनौती/मुद्दा
- आदिवासी, गरीबों व दलितों के साथ बगैर बिजली के की गई बिलों की अवैध वसूली।
- रबी सीजन, खरीफ सीजन का फसल बीमा न दिया जाना।
- बड़ी सिंचाई परियोजनाओं का लाभ न दिया जाना।
- सड़क, बिजली, पानी से अभी भी तंगहाली

वर्ष 2013
1. प्रताप सिंह लोधी 68511
2. दशरथ सिंह लोधी 56615

जीते: 11896

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned