सीएम हेल्पलाइन की समीक्षा पर दो प्राचार्यों को मिला शोकाज नोटिस

समीक्षा बैठक कलेक्ट्रेट में आयोजित हुई

By: Sanket Shrivastava

Published: 03 Jan 2020, 10:21 AM IST

दमोह. सीएम हेल्पलाइन के प्रकरणों को लेकर कलेक्टर तरुण राठी की अध्यक्षता में समीक्षा बैठक कलेक्ट्रेट में आयोजित हुई। बैठक के दौरान दो प्राचार्यों के विरुद्ध शोकाज नोटिस जारी कर वेतन वृद्धि रोके जाने की कार्रवाई के निर्देश कलेक्टर ने दिए हैं। बताया गया है कि सभी खंड शिक्षाधिकारियों से कहा गया था कि प्रकरणों के निराकरण के लिए तय समय सीमा में निराकृत किया जाए। लेकिन समीक्षा के दौरान पाया गया कि संकुल केंद्र हिरदेपुर और बांदकपुर के प्राचार्य के द्वारा शासन की मंशानुसार कार्य नहीं किया गया है। की वेतनवृद्धि संचयी प्रभाव से रोकने का कारण बताओ का नोटिस देने के निर्देश दिये। कहा गया है कि संकुल केंद्र में पदस्थ शिक्षिकों के एरियर्स व वेतन भुगतान समय पर नहीं किए जाने के आरोप में संकुल हिरदेपुर की प्राचार्य मनीषा चौबे व संकुल केंद्र बांदकपुर के प्राचार्य पीसी खटीक को कारण बताओ नोटिस जारी किए हैं। साथ ही उक्त कृत्य के लिए क्यों दो वार्षिक वेतनवृद्धि संचयी प्रभाव से रोकने का दंड प्रस्तावित करने के लिए निर्देश दिया है।
बैठक में कलेक्टर ने शिक्षाधिकारियों से कहा वे अपने क्षेत्र के स्कूलों का भ्रमण करें और लंबित समस्याओ प्रकरणों का निराकरण करवाना सुनिश्चित करेंगे। कलेक्टर ने कहा आगामी 10 जनवरी को शिक्षा विभाग की लंबित सीएम हेल्पलाइन के प्रकरणों की समीक्षा की जाएगी। बैठक मे शिकायत कर्ता और सबंधित संकुल प्राचार्य, खण्ड शिक्षाधिकारी और जिला शिक्षाधिकारी आएंगे। कलेक्टर ने यह भी निर्देश दिए कि सभी संकुल प्राचार्य यह प्रमाण पत्र देगें कि 31 दिसम्बर की अवधि तक के कोई भी प्रकरण लंबित नहीं हैं। बैठक मे जिला पेंशन अधिकारी आरके मिश्रा ने बताया शिक्षा विभाग के 7वें वेतन निर्धारण के 169 प्रकरण लंबित हैं।

Sanket Shrivastava
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned