वायरल वीडियो- यहां आबकारी नीति का खुलकर उड़ाया जा रहा मजाक, 110 की वॉटल मिल रही 150 में, अधिकारी ने कहा स्टिंग ऑपरेशन कर करेंगे कार्रवाई

जिले की आधा दर्जन दुकानों पर प्रिंट रेट से अधिक दामों पर बिक रही शराब

 

By: lamikant tiwari

Published: 01 Jul 2019, 11:25 PM IST

दमोह. जिले के बटियागढ़ स्थित शराब दुकान में मनमाने तरीके से शराब की बिक्री की जा रही है। शराब दुकान पर सूची नहीं लगाने के कारण ग्राहकों को सही दाम पता नहीं चल पा रहे हैं। जिससे शराब पीने के लिए खरीदने आने वाले ग्राहकों को ४० से ५० फीसदी अधिक दामों में शराब बेची जा रही है। अधिक दाम पर शराब बेचे जाने की शिकायत के बाद जिला आबकारी अधिकारी ने पर्चेस कराने के बाद अधिक मूल्य लेने पर कार्रवाई की बात कही है। लेकिन उन्होंने इस तरह की शिकायत प्राप्त नहीं होने की बात भी कही।
ऐसे हुए खुलासा-
बटियागढ़ की अंग्रेजी व देशी दुकान में शराब खरीदने गए एक ग्राहक व दुकानदार के बीच में जब बहश होने लगी तो किसी ने उसका वीडियो बनाकर वायरल कर दिया। जिसमें स्पष्टरूप से दिखाई दे रहा था कि दुकानदार ११० रुपए की जगह १५० रुपए लिए गए थे। जिसको लेकर दोनों में बहश भी हुई। लेकिन गद्दीदार का कहना था कि सेठ बिकवा रहे हैं इसलिए रुपए अधिक लिए जा रहे हंै।
पेटी पर चल रहा ठेका-
मामले में बताया गया है कि पिछले तीन साल से बटियागढ़ की देशी-अंग्रेजी शराब दुकान का ठेका किसी रामपाल सिंह सेंगर के नाम पर है। लेकिन उसने किसी देवेंद्र राय निवासी छतरपुर को पेटी पर ठेका दे रखा है। जिससे वह अपने कर्मचारियों से शराब की बिक्री करा रहा है। इसी गु्रप की शराब दुकानें फुटेरा, खड़ेरी, में भी संचालित हो रही हैं। वहां भी यही आलम है।
अधिकारी ने दिया यह बयान-
जिला आबकारी अधिकारी दीपक अवस्थी का कहना है कि उन्हें अभी तक कोई लिखित शिकायत उन्हें नहीं मिली है। अगर शिकायत नहीं मिलती है तो कार्रवाई करने में परेशानी होती है। हालांकि उन्होंने स्वीकार किया कि इस तरह की शिकायतें फोन पर तो प्राप्त हुई हैं। वीडियो भी आया, पर लिखित शिकायत किसी से प्राप्त नहीं हुई। इस स्थिति में वह स्वयं किसी व्यक्ति को भेज कर शराब पर्चेस कराएंगे। यदि अधिक दाम लेते पाया गया तो नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।
निर्धारित दर से नहीं ले सकते अधिक राशि-
जिला आबकारी अधिकारी का कहना है कि शराब की वॉटल पर लगे रैपर पर जो रेट लिखा हुआ होता है, उससे अधिक रेट नहीं लिया जा सकता। इसके लिए अगर कोई भी व्यक्ति अधिक दामों पर बेचते पाया जाता है तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाती है।
सूची नदारद-
बटियागढ़ सहित क्षेत्र की कई शराब दुकानों में रेट लिस्ट नहीं होने से लोगों को कई बार शराब का निर्धारित रेट पता नहीं होता। जिससे उनसे मनमाने तरीके से शराब के दाम वसूले जाते हैं। रविवार को भी कुछ इसी तरह से हुआ। एक ग्राहक जब शराब खरीदने गया तो वहां पर सूची के बारे में पूछा जिसमें गद्दीदार ने कहा कि उसे सूची नहीं मालूम शराब जो भी चाहिए है उसका रेट वह बता देगा। इसके बाद फिर शराब खरीदी तो उसमें ४० फीसदी से भी अधिक दाम लिए गए। जिससे उसकी बहश हुई पर वहां सुनने वाला कोई नहीं था। जबकि आबकारी नीति में स्पष्ट है कि शराब दुकानों में हर ब्रांड की रेट लिस्ट सूची चस्पा होना आवश्यक है। फिर भी इस तरह के आदेश का पालन नहीं किया जा सका।
कार्रवाई की जाएगी-
आपसे जानकारी लगने के बाद बिना देरी किए सोमवार रात को ही शराब पर्चेस कराई जाएगी। यदि अधिक राशि लेते हुए कर्मचारी पाया जाता है तो संबंधित कर्मचारी व ठेकेदार के विरूद्ध आबकारी नियमों के अनुसार कार्रवाई की जाएगी।
दीपक अवस्थी - जिला आबकारी अधिकारी

Show More
lamikant tiwari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned