दमोह. गर्मी के इन दिनों में पीने के पानी का संकट मडराने लगता है। इसी के चलते सार्वजनिक स्थलों पर हर साल सार्वजनिक प्याऊ संचालित किए जाते हैं जो प्यासे के लिए शीतल जल उपलब्ध कराते हैं। लेकिन इस साल शहर में अब तक नपा द्वारा पिछले सालों की तर्ज पर सार्वजनिक प्याऊ शुरु नहीं किए गए हैं। खासबात यह है कि नपा परिषद के पदाधिकारियों को यह जानकारी भी नहीं है कि प्याऊ का संचालन शुरु होना भी है या नहीं और यदि होना है तो कब तक प्याऊ संचालित हो सकेंगे।
जिला अस्पताल में मरीजों को शुद्ध पानी का संकट
यही हाल जिला अस्पताल का है। जिला अस्पताल में मरीजों और उनके परिजनों के लिए पानी का संकट बना हुआ है। जिला अस्पताल में पेय जल उपलब्ध कराए जाने के लिए तीन वर्ष पहले आरओ सिस्टम लगाए जाने की योजना तैयार की गई थी, लेकिन यह योजना मूर्त रुप अब तक नहीं ले सकी है। जिला अस्पताल में पीने के पानी के लिए वॉटर कूलर अवश्य हैं, लेकिन यह वर्तमान स्थिति पर नाकाफी साबित हो रहे हैं। जिला अस्पताल के एसएनसीयू वार्ड के बरामदे में पिछले कुछ दिनों से एक वॉटर कूलर बिगड़ी हालत में रखा हुआ है जिसका सुधार कार्य अब तक नहीं कराया जा सका है। वहीं एक वॉटर कूलर वार्डों में पहुंचने से पहले आने वाले हॉल में लगा हुआ है, लेकिन यह वॉटर कूलर एक बार पानी भरे जाने के बाद खाली होने पर दोबारा बड़ी मुश्किल से भर पाता है। जिला अस्पताल में भर्ती मरीजों को व उनके परिजनों को पीने के पानी की व्यवस्था अस्पताल के बाहर होटलों से करनी पड़ रही है। हालांकि जिला अस्पताल के मुख्य गेट पर एक सार्वजनिक प्याऊ रेडक्रास सोसायटी के सदस्य द्वारा पिछले तीन सालों से संचालित किया जा रहा है, जो इन दिनों लोगों के लिए वरदान साबित हो रहा है। यही हाल पिछले दिनों की गर्मियों में भी जिला अस्पताल में निर्मित था। जिला अस्पताल में पेय जल सुविधा को लेकर स्थापित किए जाने वाले आरओ सिस्टम के संबंध में सीएस डॉ. ममता तिमौरी का कहना है कि अतिशीघ्र ही यह व्यवस्था शुरु हो सकेगी। उन्होंने जिला अस्पताल में पीने के पानी की व्यवस्था नियमित रहने की बात भी कही है।
बस स्टैंड पर यात्री परेशान
शहर के बस स्टैंड पर यात्रियों के लिए पीने के पानी की कोई व्यवस्था नहीं है। स्टैंड परिसर में यात्रियों के लिए गर्मी के इन दिनों में पीने के पानी की व्यवस्था के लिए नपा द्वारा सार्वजनिक प्याऊ संचालित किया जाता था। लेकिन इस साल सार्वजनिक प्याऊ अब तक शुरु नहीं हो सका है। यात्रियों के लिए जलपान की दुकानों पर जाकर पैकड पानी खरीदना पड़ रहा है।
मामले में एक और खासबात यह सामने आई है कि नपा परिषद के पदाधिकारियों को यह जानकारी भी नहीं है कि सार्वजनिक प्याऊ सार्वजनिक स्थलों पर कब तक शुरु हो सकेगा। नपाध्यक्ष मालती असाटी कहतीं हैं कि गर्मी में अब तक प्याऊ संचालित हो जाने चाहिए थे, लेकिन क्यों नहीं शुरु हुए और कब शुरु हो सकेंगे इस संबंध में सीएमओ से अभी बात करती हूं। नपा उपाध्यक्ष नरेंद्र सिंह चंदेल का कहना है कि सार्वजनिक प्याऊ पिछले वर्ष तो अब तक जल विभाग द्वारा शुरु कर दिए गए थे, लेकिन इस सीजन में शुुरु क्यों नहीं हुए हैं इस संबंध में बात करता हूं। नरेंद्र सिंह चंदेल का कहना है कि शीघ्र ही बस स्टैंड पर सार्वजनिक प्याऊ शुरु करा दिया जाएगा।


MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned