scriptWater tank made in Bundelkhand package is not handover even after 10 y | बुंदेलखंड पैकेज में बनी पानी की टंकी 10 साल बाद भी हैंडओवर नहीं | Patrika News

बुंदेलखंड पैकेज में बनी पानी की टंकी 10 साल बाद भी हैंडओवर नहीं

गार्डन के बोर, टैंकर व कुआं से मंडी प्रशासन करा रहा पानी उपलब्ध

 

दमोह

Updated: April 19, 2022 09:07:55 pm

दमोह. बुंदेलखंड पैकेज के तहत कृषि उपज मंडी में करीब 30 लाख रुपए की लागत से पानी की टंकी का निर्माण 10 साल पहले किया गया था, ताकि किसानों को पानी उपलब्ध हो सके, लेकिन इस टंकी निर्माण में भ्रष्टाचार के लीकेज होने से यह टंकी मंडी प्रशासन के अब तक हैंडओवर नहीं हो पाई है।
दमोह कृषि उपज मंडी में गर्मियों के दिनों में पानी की समुचित व्यवस्था करने के लिए मंडी प्रशासन मटके रखकर पानी पिला रहा है, यहां पर उपलब्ध कुआं की सफाई भी कराई गई है व नगर पालिका के टैंकर भी आ रहे हैं। 10 साल पहले पीएचइ विभाग द्वारा बुंदेलखंड पैकेज में करीब 30 लाख रुपए से यहां पर टंकी निर्माण किया था। टंकी बनने के बाद जब टेस्टिंग हुई तो टंकी से कई जगह लीकेज होने लगा था, जिससे घटिया निर्माण की पोल खुल गई। इसके बाद पीएचई टंकी के लीकेज बंद नहीं कर पाई जिससे पानी की टंकी कृषि उपज मंडी के हैंडओवर नहीं की गई।
बुंदेलखंड पैकेज में लाखों का भ्रष्टाचार
बुंदेलखंड पैकेज के तहत निर्माण कार्यों में लाखों का भ्रष्टाचार किया गया था, शिकायतें भी हुईं, जांच भी लेकिन दोषी उपयंत्रियों, एसडीओ के एक दो इंक्रीमेंट रोककर उन्हें दोष मुक्त कर फिर नए भ्रष्टाचार करने के लिए छोड़ दिया गया। दमोह कृषि उपज मंडी प्रांगण में बनाई गई टंकी के साथ भी यही हश्र हुआ जिससे आज केवल उसका ढांचा खड़ा है, जो जर्जर होकर हादसे को निमंत्रण दे रहा है।
केंद्रीय राज्यमंत्री ने टंकी चालू कराने कहा
दमोह कृषि उपज मंडी में किसानों को पानी की समस्या देखते हुए पिछले दिनों भ्रमण पर गए केंद्रीय राज्यमंत्री प्रहलाद सिंह पटेल ने मंडी परिसर में बनी टंकी चालू कराने के लिए कहा था, लेकिन उस दौरान मंडी प्रशासन के अधिकारियों ने बताया कि हैंडओवर नहीं हुई है। जिस पर उन्होंने पीएचइ के इइ को निर्देशित किया था कि इस टंकी के संदर्भ में जानकारी प्राप्त कर इसे चालू कराया जाए।
टंकी निर्माण का रिकार्ड नहीं मिल रहा
पीएचइ इइ एमके उमरिया का कहना है कि जानकारी आई थी, वह 10 साल पुराना रिकार्ड निकलवा रहे हैं, लेकिन वह मिल नहीं रहा है। मंडी प्रशासन 10 साल तक टंकी का उपयोग करता रहा है, अब जाकर बता रहा है कि टंकी पीएचइ ने हैंडओवर नहीं की है, जबकि बोर का उपयोग मंडी प्रशासन द्वारा लगातार किया जा रहा है।
टंकी क्षतिग्रस्त, सुधार भी विफल
मंडी सचिव कुंज बिहारी बघेल का कहना है कि पीएचइ विभाग द्वारा पानी की टंकी 10 साल बाद भी हैंडओवर नहीं की वह टेस्टिंग के दौरान क्षतिग्रस्त थी। बाद उसमें सुधार करने का प्रयास किया गया लेकिन सफल नहीं हुए हैं। जिससे वह किसानों के लिए गार्डन के बोर, कुआं व नगर पालिका के टैंकरों से पानी उपलब्ध करा रहे हैं।
सुलभ शौचालय भी बंद
कृषि उपज मंडी में पानी की व्यवस्था न होने के कारण सबसे ज्यादा असर सुलभ शौचालय पर पड़ा है। वह भी बनकर तैयार हो गया है, लेकिन पानी की व्यवस्था न होने के कारण बंद पड़ा है, जिससे किसानों के लिए प्रसाधन सुविधा मंडी परिसर में उपलब्ध नहीं हो पा रही है।
Water tank made in Bundelkhand package is not handover even after 10 years
Water tank made in Bundelkhand package is not handover even after 10 years
 

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठाLiquor Latest News : पियक्कडों की मौज ! रात एक बजे तक खरीदी जा सकेगी शराबशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफMorning Tips: सुबह आंख खुलते ही करें ये 5 काम, पूरा दिन गुजरेगा शानदारDelhi Schools: दिल्ली में बदलेगी स्कूल टाइमिंग! जारी हुई नई गाइडलाइनMahindra Scorpio 2022 का लॉन्च से पहले लीक हुआ पूरा डिजाइन और लुक, बाहर से ऐसी दिखती है ये पावरफुल कारबैड कोलेस्‍ट्राॅल और डिमेंशिया को कम करके याददाश्त को बढ़ाता है ये लाल खट्‌टा-मीठा फल, जानिए इसके और भी फायदेAC में लगाइये ये डिवाइस, न के बराबर आएगा बिजली बिल, पूरे महीने होगी भारी बचत

बड़ी खबरें

अफगानिस्तान के काबुल में भीषण धमाका, तालिबान के पूर्व नेता की बरसी पर शोक मना रहे लोगों को बनाया गया निशानाPunjab Borewell Accident: बोरवेल में गिरे 6 साल के बच्चे की नहीं बचाई जा सकी जान, अस्पताल में हुई मौतBJP को सरकार बनाने के लिए क्यूँ जरूरी है काशी और मथुरा? अयोध्या से बड़ा संदेश देने की तैयारी..पश्चिम बंगाल का पूर्व मेदिनीपुर जिला बम धमाकों से दहला, तलाशी के दौरान बरामद हुए 1000 से अधिक बमIPL 2022, SRH vs PBKS Live Updates: पंजाब ने पावरप्ले में बनाए 1 विकेट के नुकसान पर 62 रनकपिल देव के AAP में शामिल होने की चर्चा निकली गलत, सोशल मीडिया पर पूर्व कप्तान ने खुद साफ की स्थितिआख़िर क्यों असदुद्दीन ओवैसी बार-बार प्लेसेज ऑफ़ वर्शिप एक्ट का रो रहे हैं रोना, यहां जानेंपुजारा और कार्तिक की टीम में वापसी, उमरान मालिक को भी मिला मौका, देखें दक्षिण अफ्रीका और इंग्लैंड दौरे का पूरा स्क्वाड
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.