दंतेवाड़ा में नक्सलियों की IED की चपेट में आकर CAF जवान शहीद

- आम के पेड़ की जड़ के नीचे नक्सलियों ने किया था आईईडी प्लांट
- छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित दंतेवाड़ा के पाहुरनार घाट की घटना

By: Ashish Gupta

Published: 05 Mar 2021, 11:28 AM IST

दंतेवाड़ा. छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित दंतेवाड़ा (Dantewada Naxal News) जिले में नक्सलियों के लगाए हुए एक आईईडी में हुए ब्लास्ट से सीएएफ 22वीं बटालियन के प्रधान आरक्षक लक्ष्मीकांत द्विवेदी शहीद हो गए। शहीद जवान दंतेवाड़ा जिले में इंद्रावती नदी के पाहुरनार घाट पर बन रहे पुल की सुरक्षा में लगे जवानों के दल में शामिल थे। जवानों को फंसाने नक्सलियों ने यह आईईडी लगाया था। आम के पेड़ की जड़ के नीचे यह आईईडी प्लांट किया हुआ था।

रोड सेफ्टी वर्ल्ड सीरीज का आगाज आज, रायपुर में पहली बार उतरेंगे सचिन, बांग्लादेश से होगा मुकाबला

यह हादसा उस वक्त हुआ जब गुरुवार दोपहर करीब 12 बजे जवानों का एक समूह आम के पेड़ की छांव में भोजन कर निकलने लगा। अन्य जवान भोजन के बाद पेड़ से कुछ दूर निकल गए, लेकिन लक्ष्मीकांत द्विवेदी कुछ देर सुस्ताने लग गये। इसी दौरान आईईडी के स्विच पर उनका पांव पड़ने से जोरदार धमाका हुआ और जवान का शरीर क्षत-विक्षत होकर बिखर गया। संयोग से कुछ ही सेकंड पहले उसी आम के पेड़ के नीचे से हटे अन्य जवान बाल-बाल बच गए। एसपी डॉ अभिषेक पल्लव ने घटना की पुष्टि की है।

कोरोना से ठीक के बाद भूलकर भी न करें ये काम वरना हो जाएंगे इस बीमारी के शिकार

जवानों पर थी नक्सलियों की करीबी नजर
समझा जा रहा है कि पुल निर्माण कार्य मे लगे मजदूरों व मशीनों की सुरक्षा में लगे जवानों की गतिविधियों पर नक्सली बारीकी से नजर रखे हुए थे और उनके सुस्ताने की संभावना वाली जगह पर आईईडी प्लांट किया हुआ था। नक्सली अपने इस मंसूबे में सफल भी हो गए। सबसे खतरनाक बात यह है कि पाहुरनार गांव में जिस जगह पर नक्सलियों ने इस करतूत को अंजाम दिया, वहां से बमुश्किल 200 मीटर की दूरी पर गांव की आबादी वाला इलाका स्थित है।

Show More
Ashish Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned