बचेली से फरार सीआईएसएफ जवान जा पहुंचा तेलंगाना, टंकी पर चढ़ आत्महत्या की कोशिश की, ऐसी बातें कही कि अफसरों के होश उड़ गए

8 मार्च को इलाज के दौरान अस्पताल से गायब हो गया था जवान महेश मार्था

 

By: Akash Mishra

Published: 16 Mar 2020, 01:42 PM IST

बचेली। इसी महीने की 8 तारीख को सीआईएसएफ का एक जवान अस्पताल सेे इलाज के दौरान फरार हो गया था। उसे पकडऩे की कोशिश की गई थी लेकिन वह सीआईएसएफ और बचेली पुलिस के जवानों को गच्चा देकर भाग निकला था। लगातार उसे तलाशा जा रहा था। बचेली पुलिस उसके गृह राज्य तेलंगाना पुलिस के भी संपर्क में भी थी। रविवार को जवान महेश मार्था का एक वीडियो सोशल मीडिया पर सामने आया इसमें वह एक ओवर हेड टैंक पर चढ़ा हुआ दिख रहा है और वहां से कूदकर अपनी जान देने की बात कह रहा है। नीचे मौजूद लोग उसे समझा रहे हैं कि नीचे आकर सारी बातें करो लेकिन वह मान नहीं रहा है। पहला वीडिया यहीं खत्म होते ही दूसरे वीडियो में वह नीचे आ चुका है और इस बार वह सीआईएसएफ के अफसरों पर प्रताडऩा का आरोप लगा रहा है। उसका कहना है कि अगर वह नहीं भागता तो उसकी जान चली जाती। दोनों ही वीडियो जवान के तेलंगाना के वारंगल जिले स्थित गृहग्राम शनिगाराम का है। इस वीडियो के साथ इस बात की पुष्टि हो गई है कि जवान सुरक्षित है और अपने गृह ग्राम में है, लेकिन वीडियो जो बातें उसने कही है, उसने सीआईएसएफ अफसरों के होश उड़ा दिए हैं। उसने अफसरों पर सीधे तौर पर प्रताडऩा का आरोप लगा डाला है। उसने कहा है कि उसे कार्य क्षेत्र में बहुत प्रताडि़त किया जाता रहा है। कहीं बाहर निकलने नहीं दिया जाता था परिवार से बात करने तक कि इज़ाज़त नही दी गई थी। अधिकारी मुझे पागल घोषित कर रहे है जबकि मैं बिल्कुल ठीक हूं।और भी जवानों को प्रताडि़त करने का लगाया आरोप जवान ने आरोप लगाया कि प्रताडि़त होने वाला मैं अकेला नहीं हूं बहुत से जवानों को असहनीय प्रताडऩा झेलनी पड़ती है, लेकिन नौकरी बचाने के लिए सब चुप रहते हंै, इधर सीआईएसएफ बचेली यूनिट के अधिकारियों का कहना है कि जवान पर पूर्व से ही अनुशासनहीनता की जांच और कार्यवाही की जा रही है इस कार्यवाही से बचने खुद को बीमार बताकर अस्पताल में भर्ती हुआ और जांच कार्यवाही से बचने भाग गया अतिसंवेदनशील क्षेत्र होने के चलते हम पुलिस की मदद से लगातार उसे ढूंढते रहे। जवान बचेली आकर अपनी बात रखने की जगह अनावश्यक आरोप लगा रहा है।प्रताडऩा जैसा आरोप गलतछुट्टी नहीं मिलने या प्रताडऩा जैसी कोई बात नहीं है। उसे लगातार छुट्टियां मिली हैं दरअसल ड्यूटी में लापरवाही, आदेशों के उल्लंघन जैसे कई जांच पहले से ही उस पर चल रहे थे,ख् जिससे बचने के लिए ही जवान प्लान बनाकर भागा है और झूठा आरोप लगाकर सहानुभूति पाकर कार्यवाही से बचना चाहता है। नीलेश कुमार, कमांडेंट सीआईएसएफ बचेली यूनिट

Akash Mishra Photographer
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned